• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • भारत के साथ सीजफायर को क्यों मजबूर हुआ पाकिस्तान, CDS बिपिन रावत ने दिया जवाब

भारत के साथ सीजफायर को क्यों मजबूर हुआ पाकिस्तान, CDS बिपिन रावत ने दिया जवाब

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत (फ़ाइल फोटो)

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत (फ़ाइल फोटो)

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत (CDS Gen Bipin Rawat) ने कहा है-LOC पर सीजफायर लागू है जो एक सकारात्मक बात है. लेकिन ठीक उसी समय में हम हथियारों की घुसपैठ भी देख रहे हैं. ये घुसपैठ ड्रोन का इस्तेमाल कर की जा रही है. ये दोनों देशों के बीच शांति के लिए सही नहीं है क्योंकि इससे शांति प्रक्रिया बाधित होती है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत-पाकिस्तान के बीच LOC पर बीते कई महीने से सीजफायर (Ceasefire) लागू है. सीजफायर का ये फैलसा आपसी सहमति से किया गया लेकिन इसके बावजूद भी भारत के भीतर हथियार भेजने की अवैध कोशिशें जारी हैं. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ने कहा है-LOC पर सीजफायर लागू है जो एक सकारात्मक बात है. लेकिन ठीक उसी समय में हम हथियारों की घुसपैठ भी देख रहे हैं. ये घुसपैठ ड्रोन का इस्तेमाल कर की जा रही है. ये दोनों देशों के बीच शांति के लिए सही नहीं है क्योंकि इससे शांति प्रक्रिया बाधित होती है.

    बिपिन रावत ने कहा-अगर शांति भंग होती है तो हम फिर ये नहीं कह पाएंगे कि सीजफायर सही तरीके से काम कर रहा है. सीजफायर का मतलब ये नहीं कि सीमाओं पर शांति बनी रहे लेकिन आंतरिक हिस्सों में बवाल पैदा करने की कोशिश की जाए. हम चाहते हैं कि पूरे जम्मू-कश्मीर क्षेत्र में शांति बनी रहे.



    सीजफायर के लिए क्यों माना पाकिस्तान
    इसके अलावा सीडीएस बिपिन रावत ने इस बात का भी जवाब दिया है कि पाकिस्तानी सेना सीजफायर के लिए क्यों मानी? उन्होंने कहा-इसके कई कारण हो सकते हैं. बीते कुछ वर्षों में बड़ी संख्या में सीजफायर उल्लंघन के मामले हुए. इन घटनाओं में छोटे हथियार ही नहीं बल्कि हाई कैलिबर हथियारों का भी इस्तेमाल हुआ. इसकी वजह से पाकिस्तानी आर्मी के डिफेंस इंफ्रास्ट्रक्चर को बड़ा नुकसान हुआ. उनके सैनिकों की मौतें हुईं. चूंकि पाकिस्तानी सैनिक गांवों में आम लोगों के बीच से भी ऑपरेट करते हैं ऐसे में आम लोगों और उनके पालतू जानवर भी इससे प्रभावित हुए. जब ऐसा होता है तो आम लोगों की तरफ से दबाव भी बढ़ता है. ये भी एक कारण हो सकता है.

    सीडीएस रावत ने कहा-अगर आप उन मुद्दों की तरफ देखेंगे जो पाकिस्तान को मुश्किल में डाल रहे हैं तो समझ में आएगा कि इनकी वजह से पाकिस्तान को लगता है कि भारत के साथ शांति प्रक्रिया सबसे बेहतर तरीका है. अगर वो शांति चाहते हैं तो ये अच्छी बात है क्योंकि ये दोनों ही पक्षों के लिए बेहतर है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज