अपना शहर चुनें

States

AIADMK ने शशिकला पर लगाया दंगा भड़काने की कोशिश का आरोप, दिनाकरण ने किया पलटवार

File photo of Sasikala.
File photo of Sasikala.

Tamil Nadu Politics: अम्मा मक्कल मुनेत्र कषगम प्रमुख एवं शशिकला के भतीजे दिनाकरन ने साजिश के आरोपों को बेतुका करार दते हुए इसे झूठा एवं अपमानजनक बताया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 7, 2021, 11:29 AM IST
  • Share this:
चेन्नई. तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता की करीबी रहीं और पार्टी से निष्कासित नेता शशिकला (VK Sasikala) के तमिलनाडु (Tamil Nadu Assembly Elections 2021) लौटने से ठीक पहले राज्य में कर्नाटक से आठ फरवरी को सत्तारूढ़ दल अन्नाद्रमुक ने शनिवार को उनके खिलाफ पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराई. पार्टी ने आरोप लगाया है कि शशिकला के समर्थक राज्य में हिंसा भड़काने की साजिश रच रहे हैं. साथ ही, राज्य में शांति कायम रखने के लिए कार्रवाई करने की मांग की है.

कानून मंत्री सीवी षणमुगम ने कहा कि पुलिस में शिकायत दर्ज कराकर शशिकला और दिनाकरण द्वारा हिंसा फैलाने की कथित साजिश को रोकने तथा तमिलनाडु के लोगों एवं संपत्ति की सुरक्षा की मांग की गई है. साथ ही, शांति सुनिश्चित करने की भी मांग की गई है. मंत्रिमंडल में उनके सहयोगी ई. मधुसूदन ने आरोप लगाया है कि अन्नाद्रमुक के नाम एवं झंडे का इस्तेमाल कर हिंसा करने की साजिश का खुलासा हुआ है.

वहीं, अम्मा मक्कल मुनेत्र कषगम प्रमुख एवं शशिकला के भतीजे दिनाकरन ने साजिश के आरोपों को बेतुका करार दते हुए इसे झूठा एवं अपमानजनक बताया है. इस बीच, पुलिस ने किसी भी तरह की कानून विरुद्ध गतिविधि को लेकर चेतावनी दी है. अन्नाद्रमुक का यह आरोप शशिकला के भ्रष्टाचार के मामले में साज काट कर बेंगलुरु जेल से बाहर आने एवं कोविड-19 की बीमारी से उबरने के बाद तमिलनाडु लौटने से ठीक पहले आया है.



आरके नगर सीट से विधायक दिनाकरन ने पत्रकारों से शुक्रवार को कहा कि शशिकला के लौटने से एआईएडीएमके हड़बड़ी में नजर आ रही है और पार्टी के झंडे को लेकर उनकी शिकायत बेहद हास्यास्पद है. कोई भी किसी भी किसी भी पार्टी का झंडा इस्तेमाल कर सकता है, लेकिन उसे अपने तरीके से नियंत्रित नहीं कर सकता. झंडे को लेकर एआईएडीएमके की आपत्ति बिल्कुल निरर्थक है.
सीवी षणमुगम के बयान को लेकर दिनाकर ने पलटवार किया और कहा कि उनके सभी आरोप बेबुनियाद हैं. उन्होंने ट्वीट किया, जब हम जैसे बहुत सारे लोग जो कि 'चिनम्मा' के वापस लौटने की तैयारी के स्वागत में यकीन रखते हैं, मुझे नहीं पता कि आखिर एक या दो मंत्री इतने नर्वस क्यों हैं."

इस बीच, मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी एवं उप मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम की अध्यक्षता में अन्नाद्रमुक की बैठक हुई है. पार्टी प्रवक्ता एवं पूर्वमंत्री वैगईचेलवन ने संवाददाताओं से कहा कि बैठक में शशिकला पर कोई चर्चा नहीं हुई. हालांकि, उन्होंने कहा कि अगर पार्टी का कोई भी सदस्य उनसे (शशिकला से) मिलता है, तो उसे बर्खास्त कर दिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज