Assembly Banner 2021

COVID-19 Vaccine: कोरोना वैक्‍सीन लगवाने के बाद भी कुछ लोग क्‍यों हो रहे पॉजिटिव, जानें सारे सवालों के जवाब

कोरोना वैक्‍सीन लगवाने के बाद भी कुछ लोग क्‍यों हो रहे पॉजिटिव.

कोरोना वैक्‍सीन लगवाने के बाद भी कुछ लोग क्‍यों हो रहे पॉजिटिव.

COVID-19 Vaccination: कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) लगवाने के बाद भी कोरोना संक्रमित होने की खबरों के बाद वैज्ञानिकों ने साफ किया है कि टीकाकरण के बाद भी सावधानी बरतने की जरूरत है. लोग वैक्‍सीनेशन के बाद कई तरह की लापरवाही बरत रहे हैं.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में जब कोरोना वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम (Corona Vaccination Program) की शुरुआत हुई तो हर किसी को लगा कि जल्‍द ही कोरोना (Corona) पूरी तरह से खत्‍म हो जाएगा. हर कोई यही सोच रहा था कि कोरोना से बचने का एक ही उपाय है और वो है कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine). हालांकि अब कई मामलों में ऐसा भी देखने को मिल रहा है कि वैक्‍सीन लगवाने के बाद भी लोग कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं. इस तरह के मामले सामने आने के बाद लोगों में चिंता बढ़ गई है.

वैक्‍सीन लगवाने के बाद भी कोरोना संक्रमित होने की खबरों को देखते हुए वैज्ञानिकों ने साफ किया है कि टीकाकरण के बाद भी बहुत सावधानी बरतने की जरूरत है. उन्‍होंने बताया कि वैक्‍सीन को शरीर में काम करने के लिए कुछ समय का वक्‍त लगता है. इस बीच अगर कोई इंसान जिसने वैक्‍सीन लगवाई है वह कोरोना संक्रमित मरीज के संपर्क में आता है तो उसे भी कोरोना हो सकता है. आइए जानते हैं कि आखिर टीकाकरण के बाद भी लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने का क्‍या कारण है.

कोरोना गाइडलाइन का पालन न करना
कोरोना वैक्‍सीन आने के बाद से लोगों के अंदर से कोरोना को लेकर डर पूरी तरह से खत्‍म हो गया है. लोग अब किसी भी तरह के कोरोना गाइड लाइन का पालन नहीं कर रहे हैं. सरकार लगातार मास्‍क पहनने, हाथों को साफ रखने और सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील कर रही है, इसके बावजूद लोग लापरवाही बरत रहे हैं.



इसे भी पढ़ें :- महाराष्ट्र: बेकाबू कोरोना के चलते वीकेंड पर लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू सहित बड़े ऐलान, जानें सबकुछ

टीकाकरण के नियमों का नहीं हो रहा पालन
जिस समय कोरोना का टीका लगाया जाता है उस वक्‍त वहां मौजूद डॉक्‍टर लोगों को वैक्सीन के नियम बताते हैं. डॉक्‍टरों की टीम टीकाकरण से पहले और टीकाकरण के बाद किए जाने वाले सभी उपायों के बारे में समझाती है. हालांकि देखने को मिला है कि वैक्‍सीन लेने के बाद लोग टीकाकरण के नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं. यही कारण है कि वैक्‍सीन लगवाने के बाद भी कुछ लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :- PM मोदी की हाई लेवल मीटिंग खत्म, कोरोना पर काबू पाने के लिए दिया 5 सूत्रीय प्लान

वैक्‍सीन की दोनों डोज समय पर न लेना
वैक्सीन के बाद भी व्यक्ति के पॉजिटिव निकलने का एक कारण डोज समय पर न मिलना है. ऐसी खबरें सुनने को मिल रही हैं कि कोरोना का पहाला डोज तो समय पर दिया जा रहा है लेकिन जब दूसरे डोज के लिए लोग अस्‍पताल पहुंचते हैं तो समय पर ये डोज नहीं मिलती है. ऐसे में दूसरी डोज न मिलने से भी लोग कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :- कोरोना के मामले तीन वजहों से बढ़े: PM मोदी ने की हालात की समीक्षा, 3 राज्यों में भेजे गए केंद्रीय दल

क्‍या वैक्‍सीनेशन के बाद कोरोना होने को री-इंफेक्‍शन कह सकते हैं
कोरोना का टीका लगवाने के बाद भी कुछ लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने को लोग री-इंफेक्शन मान रहे हैं लेकिन ये सच नहीं है. डॉक्‍टरों का कहना है कि यदि टीकाकरण के बाद भी कोरोना का संक्रमण हो जाए, तो डरने की जरूरत नहीं है. कई बार वैक्‍सीनेशन के बाद भी संक्रमण हल्का होगा. बता दें कि टीकाकरण दूसरों को सुरक्षित रखने के लिए ट्रांसमिशन की संभावना को भी कम करता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज