लाइव टीवी

अपनी वसीयत क्यों बनवाना चाहती थीं सुनंदा?

News18Hindi
Updated: June 5, 2018, 4:57 PM IST
अपनी वसीयत क्यों बनवाना चाहती थीं सुनंदा?
फाइल फोटो

सुनंदा की मौत ने ये सवाल खड़ा कर दिया है कि चमक-दमक भरी दुनिया के पीछे कैसी काली अंधेरी रात छुपी हुई है.

  • Share this:
सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले में दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने शशि थरूर को आरोपी मानते हुए उनके खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं. सुनंदा पुष्कर जनवरी 2014 में दिल्ली के एक होटल के कमरे में मृत मिली थीं. उनकी मौत से जुड़े कई राज़ हैं जिनका खुलासा होना अभी बाकी है. ऐसा ही एक सवाल यह है कि क्या सुनंदा को अपनी मौत का पहले से अहसास हो गया था?

सुनंदा ने 3 महीने पहले ही अपनी वसीयत बनवाने की बात कही थी. इसके लिए उन्होंने अपने दोस्त और कॉरपोरेट लॉयर रोहित कोचर से बात की थी. कोचर से सुनंदा ने कहा था कि जिंदगी का कोई भरोसा नहीं है, वह अपनी बीमारी को लेकर काफी परेशान थीं.

सुनंदा के नाम पर करीब सवा अरब की संपति है, जिनमें दुबई में 12 फ्लैट और कनाडा में करोड़ों का एक घर भी शामिल है. अगर सुनंदा की वसीयत नहीं बनी होती तो उनकी सारी प्रॉपर्टी उनके बेटे शिव मेनन और उनके पति शशि थरूर को मिलती.

शशि थरूर और पाकिस्तानी पत्रकार मेहर के रिश्तों को लेकर सुनंदा काफी तनाव में थीं. सुनंदा की मौत खुदकुशी थी या कुछ और ये तो नहीं पता चला है, लेकिन इतना तो जरूर है कि सुनंदा अपनी जिंदगी में खुश नहीं थीं.



ये भी पढ़ेंः
मुश्किल में फंसे शशि थरूर, पत्नी सुनंदा की मौत के मामले में पुलिस ने माना संदिग्ध
श्रीदेवी केस की कवरेज करते हुए बाथटब में लेटा रिपोर्टर, लोगों ने उड़ाया मजाक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 5, 2018, 4:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,095

     
  • कुल केस

    5,734

     
  • ठीक हुए

    472

     
  • मृत्यु

    166

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (08:00 AM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,099,679

     
  • कुल केस

    1,518,773

    +813
  • ठीक हुए

    330,589

     
  • मृत्यु

    88,505

    +50
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर