• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • PM Cares के लिए अनुदान देने वालों के नामों का खुलासा क्यों नहीं करना चाहते प्रधानमंत्री: राहुल

PM Cares के लिए अनुदान देने वालों के नामों का खुलासा क्यों नहीं करना चाहते प्रधानमंत्री: राहुल

राहुल गांधी ने पीएम केयर्स फंड को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है (फाइल फोटो, PTI)

राहुल गांधी ने पीएम केयर्स फंड को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है (फाइल फोटो, PTI)

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने ट्वीट कर दावा किया, "न्यू इंडिया में जवाबदेही को वणक्कम! पीएम केयर्स फंड की जांच संसद की पीएसी (PAC) नहीं कर सकती. इसकी जांच कैग (CAG) नहीं कर सकता. इसके बारे नागरिकों को आरटीआई (RTI) के तहत सवाल करने तक का अधिकार नहीं."

  • Share this:
    नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul gandhi) ने एक खबर का हवाला देते हुए शनिवार को सवाल किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ‘पीएम केयर्स’ कोष (PM Cares Fund) में अनुदान देने वालों के नामों का खुलासा क्यों नहीं कर रहे हैं. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री उन लोगों के नामों का खुलासा क्यों नहीं करना चाहते जिन्होंने ‘पीएम केयर्स’ (PM Cares) के लिए पैसा दिया है? हर कोई जानता है कि चीनी कंपनियों (Chinese Companies) हुवेई, शाओमी, टिकटॉक और वन प्लस ने पैसे दिए. वह इस बारे में विवरण साझा क्यों नहीं कर रहे हैं?’’

    कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने ट्वीट कर दावा किया, "न्यू इंडिया (New India) में जवाबदेही को वणक्कम! पीएम केयर्स फंड की जांच संसद की पीएसी (PAC) नहीं कर सकती. इसकी जांच कैग (CAG) नहीं कर सकता. इसके बारे नागरिकों को आरटीआई (RTI) के तहत सवाल करने तक का अधिकार नहीं. उन्होंने कटाक्ष करने के साथ ही आरोप लगाया, ‘‘मोदी जी का नारा है कि कभी कोई हिसाब नहीं दूंगा !’’

    'BJP के विरोध के चलते PAC बैठक में मामले पर सर्वसम्मति न बनने की खबर का हवाला दिया'
    राहुल गांधी और रणदीप सुरजेवाला ने जिस खबर का हवाला दिया उसमें दावा किया गया है कि लोक लेखा समिति (PAC) ‘पीएम केयर्स’ की छानबीन नहीं करेगी क्योंकि भाजपा सांसदों के विरोध के चलते पीएसी की बैठक में इस मामले पर सर्वसम्मति नहीं बन सकी.

    पीएम केयर्स में पारदर्शिता न होने से लोगों का जीवन खतरे में पड़ने का लगाया था आरोप
    इससे पहले कांग्रेस ने सरकार पर स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे (Health Infrastructure) में बढ़ोतरी नहीं कर लॉकडाउन का ‘‘समय बर्बाद’’ करने और कोविड-19 रोगियों के लिए ‘‘घटिया ’’ वेंटिलेटर (Ventilators) खरीदने का आरोप लगाया था और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि पीएम केयर्स कोष में ‘‘अपारदर्शिता’’से भारतीयों का जीवन खतरे में पड़ रहा है.

    यह भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर में भागते फिर रहे हैं आतंकवादी- जितेंद्र सिंह

    गांधी ने एक हफ्ते पहले ट्वीट कर कहा था, ‘‘पीएम केयर्स में अपारदर्शिता से भारतीयों का जीवन खतरे में पड़ता जा रहा है और सार्वजनिक धन का इस्तेमाल घटिया सामग्री खरीदने में हो रहा है.’’ उन्होंने एक खबर को भी टैग किया जिसके अनुसार एक निजी कंपनी (Private company) घटिया गुणवत्ता वाले वेंटिलेटर मुहैया करा रही है. ये वेंटिलेटर पीएम केयर्स कोष से खरीदे गए हैं." (भाषा के इनपुट सहित)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज