दोस्तों के लिए रोज चाय-पकौड़े बनवाता था पति, पत्नी ने करा दी हत्या

महिला पर आरोप है कि उसने कथित रूप से अपने प्रेमी के साथ मिलकर 7000 रुपये की सुपारी देकर अपने पति की हत्या करवाई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
महिला पर आरोप है कि उसने कथित रूप से अपने प्रेमी के साथ मिलकर 7000 रुपये की सुपारी देकर अपने पति की हत्या करवाई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पुलिस ने शनिवार को बताया कि 52 वर्षीय सुरेश कुमार की हत्या के सिलसिले में एक नाबालिग को भी पकड़ा गया है. हालांकि नाबालिग का साथी अमन घटना के बाद से फरार है.

  • Share this:
राजधानी दिल्ली के साउथ एवेन्यू में एक महिला और उसके प्रेमी को उसके घर में अपने पति की हत्या के लिए 7,000 रुपये में भाड़े के हत्यारों को सुपारी देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने शनिवार को बताया कि 52 वर्षीय सुरेश कुमार की हत्या के सिलसिले में एक नाबालिग को भी पकड़ा गया है. हालांकि नाबालिग का साथी अमन घटना के बाद से फरार है. सुरेश कुमार का गला उस समय काट दिया गया, जब सात जून को वह अपने घर में अकेला था. पुलिस ने कुमार की पत्नी अंजू और 21 वर्षीय शिवम ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया है. अमन, ठाकुर का दोस्त था और उसने कुमार की हत्या के लिए कथित तौर पर भाड़े के हत्यारों को सुपारी दी.

दंपति साउथ एवेन्यू में टीएमसी सांसद के फ्लैट में सर्वेंट क्वार्टर में रह रहे थे. पुलिस के अनुसार, कुमार के अपने से 16 साल छोटी पत्नी के साथ अच्छे संबंध नहीं थे और वह जुआ खेलता था. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, पति घर पर जुआ खेलने आने वाले अपने दोस्तों की टोली के लिए रोजाना चाय पकौड़े और खाना बनाता था. महिला को यह नगवार गुजरता था, जिसपर उसने ऐतराज भी किया और फिर बाद में उसने कथित रूप से अपने पति की सुपारी देकर हत्या करवा दी.

यह भी पढ़ें:  ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने महिला पुलिस अधिकारी को जिंदा जलाया



पुलिस उपायुक्त (नयी दिल्ली) मधुर वर्मा ने बताया कि घटना की रात एक निवासी ने इलाके से मास्क पहने हुए दो लोगों को भागते हुए देखा था. वहीं पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि अंजू अक्सर अपने पति के बिना मेरठ में अपने परिवार और दोस्तों से मिलने जाती थी. इससे इस घटना में उसके शामिल होने का संदेह हुआ और पुलिस ने ठाकुर, उसके रिश्तेदार और प्रेमी पर ध्यान केंद्रित किया.
उन्होंने बताया कि ठाकुर को उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी में उसके एक रिश्तेदार के घर से पकड़ा गया. पूछताछ में खुलासा हुआ कि ठाकुर ने अंजू से करीबी बढ़ायी थी जो उसकी जान-पहचान की थी. अधिकारी ने कहा, ‘अंजू ने बताया कि वह अपनी शादीशुदा जिंदगी से खुश नहीं थी. उसका पति घर में जुआ खेलता था और कई लोग उसके घर आते थे जिस पर उसने आपत्ति जताई थी. वह कभी भी उनके लिए चाय और खाना बनाने के लिए कहता था.’

घटना से एक महीने पहले पति के साथ झगड़ा होने पर अंजू ने जहर भी खाया था. जब ठाकुर ने इसकी वजह पूछी तो उसने कहा कि या तो उसे या उसके पति को मरना होगा. इसके बाद ठाकुर ने अंजू के साथ मिलकर सुरेश को मारने की साजिश रची. पुलिस ने बताया कि ठाकुर मेरठ में एक मेडिकल स्टोर में काम करता था जबकि अंजू साउथ एवेन्यू में एक सांसद के फ्लैट में घरेलू सहायिका का काम करती थी.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज