लाइव टीवी

गैंगस्टर की पत्नी ने लेडी डॉन को सिखाया सबक, ऐसा बदला लिया कि...

Bhawani Singh | News18India
Updated: October 20, 2016, 6:13 PM IST
गैंगस्टर की पत्नी ने लेडी डॉन को सिखाया सबक, ऐसा बदला लिया कि...
राजस्थान में शराब तस्कर पति को लेडी डॉन से छुटकारा दिलाने कि लिए उसकी पत्नी ने ऐसी प्लानिंग की...

राजस्थान में शराब तस्कर पति को लेडी डॉन से छुटकारा दिलाने कि लिए उसकी पत्नी ने ऐसी प्लानिंग की...

  • News18India
  • Last Updated: October 20, 2016, 6:13 PM IST
  • Share this:
जयपुर। जोधपुर की एक साधारण दिखने वाली महिला ने पहले शराब तस्कर से इश्क लड़ाया फिर उसके कारोबार में पार्टनर बन गई। अपने आशिक का काम संभालने की वजह से समता एक आम औरत से लेडी डॉन बन गई। लेकिन, उसकी ये हरकत शराब तस्कर राजू की पत्नी सोहनी को नागवार गुजरी और उसने समता को अपने पति से अलग करने की ठान ली।

सोहनी ने पहले पति को लेडी डॅान के प्रेमजाल से निकाला और फिर समता को जेल पहुंचाकर अपना बदला पूरा किया। समता बिश्नोई नाम की ये औरत कितनी खतरनाक है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जितने भी गैर कानूनी धंधे हो सकते हैं, वो सब कुछ इसके इशारे पर ही होते थे।

कहानी पश्चिम राजस्थान की है जहां आजाद ख्याल और ऐशो आराम की जिंदगी जीने की तलबगार समता ने अपने ड्राइवर पति को छोड़कर शराब तस्कर राजू ईराम का हाथ थाम लिया। न केवल हाथ थामा बल्कि, समता ने राजू का अवैध कारोबार भी संभाला। अक्सर घूंघट में रहने वाली महिला डॉन समता राजस्थान में शराब तस्करी का सबसे बड़ा गैंग चलाती है। शराब माफिया उसके नाम से कांपते हैं। लेकिन ये लेडी डॉन कुछ दिन पहले पुलिस के हत्थे चढ़ गई।

(पढ़ें : आशिक का काम संभालते-संभालते एक आम औरत बनी लेडी डॉन)

जोधपुर समेत कई शहरो में आलीशान कोठियों की मालकिन समता को उसके ही प्रेमी और पूर्व गैंगस्टर की पत्नी सोहनी ने जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया। सोहनी का रसूख भी कम नहीं है। वो जालोर जिले के कूका ग्राम पंचायत की सरपंच हैं। राजू समता के जादू में ऐसे फंसा कि शराब तस्करी की गैंग में उसे भी शामिल कर लिया। समता शराब तस्करी के कारोबार में उसकी पार्टनर बन गई। इधर, अपने पति के मोहजाल में फंसने से सोहनी परेशान थी। सोहनी को तब और झटका लगा जब समता पति के धंधे में साझेदार बन गई। हालात ऐसे पलटे कि राजू शराब तस्करी के धंधे में दो बार जेल गया।

सोहनी को शक था कि उसे समता ने जेल भिजवाया। इधर समता अब अकेली इस धंधे की डॉन बन चुकी थी और प्रेमी एक गुर्गा। सोहनी ने पति राजू को यकीन दिलाया कि बर्बादी के पीछे समता ही है। फिर सोहनी ने पति को पहले समता के दिल से अलग किया और फिर धंधे से।

सोहनी ने पति को जालौर में ही नमकीन की फैक्ट्री खुलवाई। खुद सरपंच का चुनाव लड़ी और सरपंच बन गई। करवाचौथ पर सोहनी खुश थी कि पति को न केवल संघर्ष से वापस पाया बल्कि, दलदल से भी बाहर निकाला। इतना ही नहीं सोहनी ने ही समता पर निगरानी रखकर उसे जेल भिजवाकर बदला भी पूरा किया।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 20, 2016, 5:28 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर