अपना शहर चुनें

States

पुडुचेरी में क्या चुनाव से पहले ही गिर जाएगी कांग्रेस सरकार? जानें विधानसभा का गणित

पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी ने कहा है सरकार को अभी कोई खतरा नहीं है. (फाइल फोटो)
पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी ने कहा है सरकार को अभी कोई खतरा नहीं है. (फाइल फोटो)

खबर है कि मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी (V Narayanasamy) ने बहुमत साबित करने का फैसला किया गया है. पुडुचेरी (Puducherry) विधानसभा में कांग्रेस (Congress के 15 विधायक हैं. कांग्रेस को यहां पर तीन डीएमके और एक निर्दलीय विधायक का समर्थन हासिल है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 17, 2021, 12:36 PM IST
  • Share this:
पुडुचेरी. पुडुचेरी (Puducherry) में कांग्रेस (Congress) सरकार पर संकट के बादल दिखाई दे रहे हैं. पिछले दो दिनों में कांग्रेस के चार विधायकों के इस्तीफे के बाद पुडुचेरी में कांग्रेस की सरकार अल्पमत में चली गई है. दूसरी ओर मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी (V Narayanasamy) ने कहा कि वह इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि दोनों नेता पार्टी में बने रहेंगे. उन्होंने कहा, 'हमारी सरकार अल्पमत में नहीं है.' नारायणसामी ने कहा कि मल्लाडी कृष्ण राव और जॉन कुमार के इस्तीफे अब तक स्वीकार नहीं किए गए हैं और अभी भी अध्यक्ष उन पर विचार कर रहे हैं.

खबर है कि विधायकों के साथ बैठक के बाद मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी ने कैबिनेट को भंग करने की बजाय बहुमत साबित करने का फैसला किया गया है. वहीं पुडुचेरी के एलजी पद से किरण बेदी को हटाए जाने के बाद कांग्रेस के लिए दिक्‍कत और बढ़ गई है. 30 सीटों वाली पुडुचेरी विधानसभा में कांग्रेस के 15 विधायक हैं. कांग्रेस को यहां पर तीन डीएमके और एक निर्दलीय विधायक का समर्थन हासिल है. पिछले दो दिनों में चार विधायकों के इस्‍तीफे के बाद अब विधायकों की संख्या दस हो गई है. दरअसल इससे पहले एक विधायक को पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त रहने की वजह से पार्टी से बाहर निकाल दिया गया था.

वहीं विपक्ष के आंकड़ों पर गौर करें तो साल 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में एआईएनआरसी को सात सीटें और अन्नाद्रमुक को चार सीटें मिली थीं. वहीं सदन में भारतीय जनता पार्टी के तीन नामित सदस्य हैं. इस तरह से देखा जाए तो कांग्रेस और विपक्ष दोनों के पास 14-14 विधायकों का समर्थन है. पुडुचेरी में बहुमत के आंकड़े को छूने के लिए 15 विधायकों का समर्थन जरूरी है. पुडुचेरी विधानसभा का चुनाव अप्रैल में होने की उम्मीद है क्योंकि मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल 21 जून 2021 को समाप्त हो रहा है.
इसे भी पढ़ें :- पुडुचेरी में कांग्रेस सरकार पर संकट के बादल, सीएम नारायणसामी बोले- बीजेपी ने शुरू कर दिया 'ऑपरेशन लोटस'



अब क्या है पुडुचेरी में स्थिति?
कांग्रेस विधायक के इस्तीफे का घटनाक्रम पार्टी नेता राहुल गांधी के चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत करने के लिए आने से एक दिन पहले हुआ है. कुमार के इस्तीफा के बाद मंगलवार को विधानसभा में कांग्रेस के 10, द्रमुक के तीन, ऑल इंडिया एनआर कांग्रेस के सात, अन्नाद्रमुक के चार, भाजपा के तीन (सभी नामांकित एवं मत देने का अधिकार रखते हैं) और एक निर्दलीय विधायक रह गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज