क्या राम मंदिर के बाद अब सरकार लाएगी जनसंख्या नियंत्रण कानून? BJP सांसद ने की PM से विधेयक लाने की अपील

क्या राम मंदिर के बाद अब सरकार लाएगी जनसंख्या नियंत्रण कानून? BJP सांसद ने की PM से विधेयक लाने की अपील
पीएम मोदी

Population control law: पिछले साल 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद देश की बढ़ती आबादी पर चिंता जताई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 10, 2020, 12:09 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन के बाद अब देश भर में जनसंख्या नियंत्रण कानून (Population control law) को लेकर सवाल उठने लगे हैं. राज्यसभा सदस्य डॉ. अनिल अग्रवाल ने देश में लगातार बढ़ रही आबादी को काबू करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) से आगामी संसद सत्र में जनसंख्या नियंत्रण विधेयक पेश करने की अपील की है. डॉक्टर अग्रवाल ने शुक्रवार को पत्र लिखकर प्रधानमंत्री से ये अपील की.

पीएम ने भी जताई है चिंता
बता दें कि पिछले साल 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद देश की बढ़ती आबादी पर चिंता जताई थी. डॉक्टर अग्रवाल ने प्रधानमंत्री मोदी से कहा, ‘आपने 15 अगस्त 2019 के अवसर पर देश में जनसंख्या नियंत्रण की जो जरूरत बताई थी, अब उस संकल्प को पूरा करने का समय आ गया है. मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि आप आगामी संसद सत्र में इस संबंध में उचित विधेयक लाने पर विचार करें.’





बीजेपी का वादा
बता दें कि पिछले साल लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में जिन वादों का जिक्र किया था, उसमें से तीन वादों को उसने सात महीने के अंदर ही पूरा कर दिया. मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के दौरान जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल-370 हटाने, नागरिकता संशोधन बिल लाने और तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाने का वादा किया था. इसके बाद पीएम मोदी ने राम मंदिर की भी नींव रख दी. इन चारों वादों को पूरा करने के बाद अब कहा जा रहा है कि मोदी सरकार जल्द ही समान नागरिक संहिता बिल और जनसंख्या नियंत्रण कानून पर भी काम शुरू करने जा रही है.

चीन की तर्ज पर भारत में बनेगा कानून?
बता दें कि दुनिया के कई विकासशील देशों में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू है. चीन में सिर्फ दो बच्चे पैदा करने की ही इजाजत है. भारत में फिलहाल जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कोई कानून नहीं है. सरकार सिर्फ लोगों से छोटा परिवार रखने की अपील करती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज