Home /News /nation /

क्या टीएमसी अपना नाम बदलेगी? ममता बनर्जी जल्‍द ले सकती हैं बड़ा फैसला

क्या टीएमसी अपना नाम बदलेगी? ममता बनर्जी जल्‍द ले सकती हैं बड़ा फैसला

पार्टी के नाम बदलने को लेकर अंतिम फैसला ममता बनर्जी ही करेंगी.  (फाइल फोटो)

पार्टी के नाम बदलने को लेकर अंतिम फैसला ममता बनर्जी ही करेंगी. (फाइल फोटो)

तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) ने अपने संविधान को बदलना भी तय कर लिया है ताकि पार्टी वर्किंग कमेटी (Party Working Committee) में दूसरे राज्यों से भी लोगो को शामिल किया जा सके. अभी टीएमसी वर्किंग कमेटी में सिर्फ बंगाल के नेता ही शामिल हैं. ऐसे में दूसरे राज्यों में विस्तार की कोशिश में जुटी टीएमसी की नज़र दूसरे राज्यों पर भी है. अभी तक टीएमसी ने बंगाल के अलावा त्रिपुरा, मेघालय और गोवा में मजबूती से अपने पार्टी का विस्तार करने में लगी है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. राष्ट्रीय विस्तार की आकांक्षा पाले तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) यानी TMC के अंदर पार्टी का नाम बदलने पर भी चर्चा हो रही है. हालांकि अभी ये मसला चर्चा के स्तर पर ही है. कोई भी अंतिम फैसला ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) करेंगी. टीएमसी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि पार्टी के नाम बदलने पर पार्टी के अंदर चर्चा है, हालांकि अभी इस संबंध में कोई अंतिम फैसला नहीं लिया गया है.

दूसरी तरफ टीएमसी ने अपने संविधान को बदलना भी तय कर लिया है ताकि पार्टी वर्किंग कमेटी में दूसरे राज्यों से भी लोगो को शामिल किया जा सके. अभी टीएमसी वर्किंग कमेटी में सिर्फ बंगाल के नेता ही शामिल हैं. ऐसे में दूसरे राज्यों में विस्तार की कोशिश में जुटी टीएमसी की नज़र दूसरे राज्यों पर भी है. अभी तक टीएमसी ने बंगाल के अलावा त्रिपुरा, मेघालय और गोवा में मजबूती से अपने पार्टी का विस्तार करने में लगी है.

दरअसल टीएमसी के राष्ट्रीय विस्तार के लिए टीएमसी पार्टी का नाम बदलने पर चर्चा है और पार्टी संविधान में बदलाव भी इसी उद्देश्य से किया जाएगा. चुनाव आयोग के पूर्व अधिकारी के मुताबिक कोई भी पार्टी अपना नाम बदल सकती है, लेकिन चुनाव आयोग की मंजूरी नए नाम के लिए लेनी पड़ती है.

इसे भी पढ़ें :- पश्चिम बंगाल से बाहर निकलने की तैयारी में TMC, आज से मुंबई दौरे पर ममता बनर्जी

टीएमसी का दर्जा राष्ट्रीय पार्टी का!
चुनाव आयोग के मापदंडों के मुताबिक टीएमसी को अभी भी राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल है, लेकिन टीएमसी का मूल आधार पश्चिम बंगाल ही रहा है. अब पार्टी देश में अपना विस्तार करना चाहती है इसलिए पार्टी संविधान में बदलाव करेगी और पार्टी के नाम बदलने पर भी विचार कर रही है. इस बदलाव का मकसद राष्ट्रीय स्तर पर तृणमूल कांग्रेस को न सिर्फ बंगाल की पार्टी के तौर पर बल्कि पूरे देशव्यापी पार्टी के तौर पर देखा जाना है.

Tags: Mamata banerjee, TMC, Trinamool congress

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर