लाइव टीवी
LIVE NOW

संसद Live: SPG विधेयक राज्यसभा में पेश, कांग्रेस ने कहा- क्या विपक्ष को प्रोटेक्ट नहीं करना चाहते?

राज्यसभा में SPG संशोधन विधेयक पेश कर दिया गया. इस पर सदन में बहस चल रही है. कांग्रेस ने सवाल किया कि क्या विपक्ष को प्रोटेक्ट नहीं करना चाहते?

Hindi.news18.com | December 3, 2019, 3:39 PM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated December 3, 2019

हाइलाइट्स

3:39 pm (IST)
अतीत में इस कानून में हुए संशोधनों का जिक्र करते हुए रेड्डी ने कहा 'प्रस्तावित संशोधन के तहत एसपीजी सुरक्षा सिर्फ प्रधानमंत्री और उनके साथ उनके आवास में रहने वालों के लिए ही होगी तथा सरकार द्वारा आवंटित आवास पर रहने वाले पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार को पांच साल की अवधि तक एसपीजी सुरक्षा प्राप्त होगी . ' रेड्डी के अनुसार, इस स्तर के सुरक्षा कवर के लिए ‘विशेष' शब्दावली का उपयोग किया गया है और यह आदर्श रूप में प्रधानमंत्री के संदर्भ में होना चाहिए . उन्होंने कहा कि विशेष सुरक्षा के दायरे में शारीरिक सुरक्षा के साथ साथ उनके विभाग, स्वास्थ्य, संचार एवं अन्य विषय भी शामिल हैं .

3:38 pm (IST)
विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) कानून में संशोधन को समय की मांग बताते हुए गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने मंगलवार को राज्यसभा में कहा कि इस बल को और अधिक प्रभावी बनाने तथा कानून के मूल उद्देश्य को बहाल करने के उद्देश्य से एसपीजी अधिनियम संशोधन विधेयक लाया गया है .रेड्डी ने विशेष सुरक्षा समूह अधिनियम संशोधन विधेयक को चर्चा एवं पारित करने के लिये रखते हुए उच्च सदन में कहा कि यह विधेयक इसलिए लाया गया है ताकि एसपीजी कानून के मूल उद्देश्य को बहाल किया जा सके, बल को और अधिक प्रभावी बनाया जा सके.

2:19 pm (IST)
राज्यसभा में SPG विधेयक पेश किया गया.गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने एसपीजी विधेयक पेश किया.

1:44 pm (IST)
उन्होंने और भाजपा के सदस्यों ने नारेबाजी करते हुए मांग की कि अधीर रंजन चौधरी अपने बयानों के लिए सदन में माफी मांगे. इस बीच लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने अधीर रंजन चौधरी को उनकी बात रखने की अनुमति दी, लेकिन वह शोर-शराबे के बीच अपनी बात नहीं रख पाए. इसके बाद कांग्रेस के सदस्यों ने सदन से वाकआउट किया.

 

1:44 pm (IST)
भाजपा की पूनम महाजन ने कहा कि सोमवार को जब हैदराबाद की घटना पर सारा सदन, सभी दल साथ खड़े थे तो कुछ समय बाद ही चौधरी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के लिए अपमानजनक टिप्पणी की. उन्होंने कहा कि यह सरकार ऐसी है जहां पहले से कहीं अधिक संख्या में महिला मंत्री हैं और सुरक्षा पर कैबिनेट समिति में प्रधानमंत्री मोदी के साथ दो दो महिलाएं रहीं. महाजन ने कहा कि ‘निर्बल’ तो चौधरी हैं जो ‘‘एक ही परिवार की महिला की सुरक्षा, सम्मान के लिए खड़े हैं और देश की महिलाओं की उन्हें कोई फिक्र नहीं है.’’ भाजपा सांसद ने कहा कि चौधरी पार्टी के एक ही परिवार के लिए खड़े हैं, देश के लिए नहीं. वह प्रधानमंत्री को घुसपैठिया कहते हैं, इसलिए वह निर्बल हैं.

1:43 pm (IST)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के लिए ‘घुसपैठिया’ और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के लिए ‘निर्बला’ शब्द का इस्तेमाल करने पर लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी से माफी की मांग पर मंगलवार को भी भाजपा के सदस्य अड़े रहे, वहीं अपनी बात नहीं रख पाने पर कांग्रेस ने सदन से वाकआउट किया. लोकसभा में शून्यकाल शुरू होते ही कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने देश में महंगाई और प्याज के बढ़ते दामों के विषय को उठाने का प्रयास किया. चौधरी के खड़े होते ही भाजपा के भी सदस्य भी अपने स्थानों पर खड़े हो गये और कांग्रेस सदस्य की कल की गयी टिप्पणियों पर उनसे माफी की मांग करने लगे.

12:27 pm (IST)
सदन में शून्यकाल के दौरान कांग्रेस सदस्य और बेअंत सिंह के पौत्र रवनीत सिंह बिट्टू के एक पूरक प्रश्न के उत्तर में शाह ने यह जानकारी दी. बिट्टू ने सवाल किया कि क्या राजोआना को माफी दी जा रही है? इस पर शाह ने कहा, ‘मीडिया रिपोर्ट पर मत जाइए. कोई माफी नहीं की गई है.’ गौरतलब है कि राजोआना को बेअंत सिंह की हत्या के मामले में दोषी है.

 

12:26 pm (IST)
गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को लोकसभा में कहा कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या के दोषी बलवंत सिंह राजोआना को कोई माफी नहीं दी गई है.

12:09 pm (IST)
कांग्रेस सांसद कोडिकुनिल सुरेश ने प्रियंका गांधी वाड्रा के आवास पर सुरक्षा चूक पर सवालों का जवाब देते हुए कहा, 'कांग्रेस पार्टी आज राज्यसभा में इस मुद्दे को उठाएगी.लोकसभा में हमारे नेता आज शून्यकाल के दौरान इस मुद्दे को उठाएंगे और हम स्थगन प्रस्ताव पेश करेंगे.'

12:08 pm (IST)
सांसद कुमारी शैलजा ने देश में अवैध खनन के मुद्दों को उठाया, खासकर हरियाणा में. शैलजा ने कहा कि अवैध खनन को लेकर शून्य मामले सामने आए हैं.

LOAD MORE
नई दिल्ली. संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान मंगलवार को राज्यसभा गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने एसपीजी विधेयक (संशोधित) पेश किया जिसके तहत अब SPG सिर्फ प्रधानमंत्री को ही सुरक्षा देगी.

रेड्डी ने विशेष सुरक्षा समूह अधिनियम संशोधन विधेयक को चर्चा एवं पारित करने के लिये रखते हुए उच्च सदन में कहा कि यह विधेयक इसलिए लाया गया है ताकि एसपीजी कानून के मूल उद्देश्य को बहाल किया जा सके, बल को और अधिक प्रभावी बनाया जा सके.

अतीत में इस कानून में हुए संशोधनों का जिक्र करते हुए रेड्डी ने कहा 'प्रस्तावित संशोधन के तहत एसपीजी सुरक्षा सिर्फ प्रधानमंत्री और उनके साथ उनके आवास में रहने वालों के लिए ही होगी तथा सरकार द्वारा आवंटित आवास पर रहने वाले पूर्व प्रधानमंत्री और उनके परिवार को पांच साल की अवधि तक एसपीजी सुरक्षा प्राप्त होगी . '

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi vadra) के आवास पर 25 नवंबर को 5 लोग फोटो खिंचवाने के लिए घुस गए. इस मामले में प्रियंका गांधी के कार्यालय का कहना है कि CRPF लापरवाही के साथ काम कर रही है. वहीं आज राज्यसभा (Rajya sabha) में SPG विधेयक पेश होगा. ऐसे में हंगामे के आसार हैं.

यहां पढ़ें Lok sabha और Rajya Sabha से जुड़ी Live Updates