Assembly Banner 2021

केंद्रीय मंत्री का राहुल पर निशाना, कहा-गांधी परिवार की 5 पीढ़ियों को उत्तर भारतीयों ने ही प्रधानमंत्री बनाया

केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, जिनसे परिवार की पांच पीढ़ियां पीएम बनीं, राहुल उन्‍हीं की बुराई कर रहे.

केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, जिनसे परिवार की पांच पीढ़ियां पीएम बनीं, राहुल उन्‍हीं की बुराई कर रहे.

राहुल गांधी को निशाना बनाते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा, अमेठी और रायबरेली उत्तर प्रदेश के सबसे पिछड़े क्षेत्रों में एक हैं, जहां गांधी परिवार की नुमाइंदगी रही है। यहां की जनता ने इन्हें चुना और फिर प्रधानमंत्री बने.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 12:11 AM IST
  • Share this:
मथुरा. केंद्रीय पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस एवं इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress leader Rahul Gandhi)  के विवादित बयान पर तंज कसते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि गांधी परिवार की पांच पीढ़ियों को उत्तर भारतीयों ने ही प्रधानमंत्री बनाया और अब वह उनकी बुराई कर रहे हैं. प्रधान वात्सल्य ग्राम में ‘वैशिष्ट्यम दिव्यांग पुनर्वास केंद्र’ का शिलान्यास करने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे.

उन्होंने कहा, ‘‘अमेठी और रायबरेली उत्तर प्रदेश के सबसे पिछड़े क्षेत्रों में से एक हैं. जहां अब तक गांधी परिवार की नुमाइंदगी रही है. वहां की जनता ने गांधी परिवार के लोगों को चुना और फिर वे प्रधानमंत्री बने. लेकिन अब राहुल गांधी उनके बजाए दक्षिण भारत (केरल) के लोगों में अच्छाई ढूंढ रहे हैं. उत्तर के लोगों की बुराई कर रहे हैं.’’

प्रधान ने कहा, ‘‘ऐसा करके वे एक प्रकार से देश के लोगों को बांटने का काम भी कर रहे हैं. यही उनकी मानसिकता है.’’ डीजल-पेट्रोल के बढ़ते दामों के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दामों में उछाल और कोरोना महामारी के बाद उत्पादक देशों द्वारा आपूर्ति को कम करना इसके प्रमुख कारण हैं.’’



ये भी पढ़ें   यूपी विधानसभा में CM योगी ने क्यों कहा- स्वाभिमानी व्यक्ति होगा तो पटक कर मारेगा? पढ़ें 5 रोचक बयान
पेट्रोलियम पदार्थों को जीएसटी के दायरे में लाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘पेट्रो पदार्थों को जीएसटी काउंसिल में लाने के लिए हम मंत्रालय की ओर से अपील कर रहे हैं लेकिन फैसला तो काउंसिल को ही करना है.’’ केंद्रीय मंत्री ने अयोध्या में मंदिर निर्माण के नींव पूजन के दौरान संघ प्रमुख मोहन भागवत के बयान का उल्लेख करते हुए कहा कि समाज को राममय बनाना है. इसके लिए सभी को आत्मनिर्भर बनाने की जिम्मेदारी उठानी होगी. उन्होंने कहा, पं. दीनदयाल उपाध्याय के आदर्श विचार ‘‘अंतिम व्यक्ति के चेहरे पर मुस्कान लाए बिना रामराज्य की परिकल्पना संभव ही नहीं है. इसीलिए यह सरकार उनकी सोच के अनुसार पंक्ति के अंतिम पायदान पर मौजूद व्यक्ति की बेहतरी के लिए प्रयासरत है.’’




गौरतलब है कि हाल ही में अपने संसदीय क्षेत्र केरल के वायनाड गए राहुल गांधी ने कहा था कि उत्तर भारत में उन्हें ‘‘अलग तरह की राजनीति’’ की आदत हो गई थी और केरल आना उनके लिए नये तरह का अनुभव है क्योंकि यहां के लोग ‘मुद्दों’ में ज्यादा दिलचस्पी रखते हैं. उन्होंने कहा था, ‘‘पहले 15 साल मैं उत्तर भारत से सांसद रहा. इसलिए मुझे अलग तरह की राजनीति की आदत हो गई थी. मेरे लिए
केरल आना नया अनुभव था. क्योंकि अचानक मैंने देखा कि लोग मुद्दों में दिलचस्पी रखते हैं, सिर्फ दिखावे के लिए नहीं बल्कि गहनता से उस पर विचार करते हैं.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज