महिला ने राहुल गांधी के सामने की CM की शिकायत, नारायणसामी ने अनुवाद में बदल दी पूरी बात

पुडुचेरी में राहुल गांधी ने मछुआरों से बात की.

पुडुचेरी दौरे पर गए राहुल गांधी से बातचीत के दौरान एक महिला ने तमिल में कहा- 'वह (नारायणसामी) यहां हैं. क्या वह चक्रवात के दौरान कभी हमारे पास आए?' तो इसका अंग्रेजी में अनुवाद करते हुए नारायणसामी ने बताया कि महिला कह रही है कि निवार चक्रवात के समय मैंने उनकी बहुत मदद की.

  • Share this:
    पुडुचेरी. पुडुचेरी (Puducherry) में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) राज्य में दौरे पर हैं. इस दौरान उन्होंने बुधवार को मछुआरों से मुलाकात की. मछुआरों से मुलाकात के वक्त राहुल के साथ राज्य के सीएम वी. नारायणसामी (Narayansami) भी मौजूद थे. राहुल से बातचीत के दौरान एक महिला ने तमिल में कहा- 'वह (नारायणसामी) यहां हैं. क्या वह चक्रवात के दौरान कभी हमारे पास आए?'

    जब सीएम को महिला के सवाल का अनुवाद अंग्रेजी में करना हुआ तो उन्होंने बिल्कुल उल्टा अनुवाद बता दिया. नारायणसामी ने राहुल से कहा- 'महिला का कहना है कि निवार चक्रवात के दौरान मैं आया और इलाके में राहत कार्य में मदद की.' सोशल मीडिया पर सीएम का यह खुलेआम बोला गये झूठ का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है.



    आपके साथ चलूंगा मछली पकड़ने- राहुल
    केंद्रशासित प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का अभियान शुरू करने की खातिर यहां आए राहुल ने कहा कि शब्दों के जरिए हर चीज का वर्णन नहीं किया जा सकता है और बेहतर तरीके से समझने के लिए अनुभव की आवश्यकता होती है.

    उन्होंने यहां मछुआरे की एक बस्ती की यात्रा के दौरान कहा कि अनुभव का मकसद उनकी समस्याओं और मुद्दों को समझना है क्योंकि प्रश्नों से चीजों का कुछ हद तक ही पता चल सकता है. राहुल ने तालियों के बीच कहा, ‘... कुछ चीजें नहीं बोली जा सकती हैं. कुछ अनुभवों का वर्णन नहीं किया जा सकता. इसलिए मुझे आपसे एक मदद की जरूरत है. अगली बार जब मैं यहां आऊंगा, तो मैं मछली पकड़ने वाली नाव में आपके साथ जाना चाहता हूं ताकि आपके अनुभवों को जान सकूं.’

    उन्होंने कहा कि इस अनुभव से उन्हें पुडुचेरी के मछुआरों के मुद्दों को समझने में मदद मिलेगी. पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव अप्रैल में होने की उम्मीद है.

    राहुल गांधी पर ‘झूठ’ की राजनीति करने का आरोप 
    वहीं राहुल गांधी द्वारा कृषि की तरह अलग मत्स्य पालन मंत्रालय ना होने के दावे के बाद भाजपा नेताओं ने बुधवार को उन्हें आड़े हाथों लिया और कहा कि यह मंत्रालय पहले से ही अस्तित्व में है. भाजपा नेताओं ने गांधी पर ‘झूठ’ की राजनीति करने का आरोप भी लगाया.

    पुडुचेरी में मछुआरों से एक संवाद के दौरान राहुल गांधी ने उन्हें समुद्र का किसान करार दिया और सवाल उठाया कि यदि खेती करने वाले किसानों के लिए अलग मंत्रालय हो सकता है तो उनके लिए क्यों नहीं? मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री गिरिराज सिंह ने राहुल गांधी को संबोधित करते हुए ट्वीट किया कि उन्हें इतना तो पता ही होना चाहिए कि 31 मई 2019 को ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नया मंत्रालय बना दिया.

    उन्होंने कहा, ‘राहुल जी! मेरा आपसे अनुरोध है कि आप नए मत्स्यपालन मंत्रालय में आएं या मुझे जहां बुलाएं, मैं आ जाता हूं. मैं आपको नए मत्स्यपालन मंत्रालय के द्वारा पूरे देश तथा पुडुचेरी में चलाई जा रही योजनाओं के बारे में बताता हूं.’ राहुल गांधी का मजाक उड़ाते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि फिर एक बार उनके ‘झूठ की राजनीति’ के चक्कर में कांग्रेस की किरकिरी हो रही है. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए इटैलियन भाषा में एक ट्वीट किया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.