Union Budget 2018-19 Union Budget 2018-19

मलेशिया में बेटे के शव के साथ फंसी थी मां, सुषमा स्वराज ने की मदद

भाषा
Updated: January 12, 2018, 11:00 AM IST
मलेशिया में बेटे के शव के साथ फंसी थी मां, सुषमा स्वराज ने की मदद
एक शख्स ने ट्वीट के जरिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को इस घटना की जानकारी दी.
भाषा
Updated: January 12, 2018, 11:00 AM IST
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने एक भारतीय महिला की उसके बेटे का शव लाने में मदद की. यह महिला अपने बेटे के साथ आस्ट्रेलिया से भारत आ रही थी, लेकिन कुआलालंपुर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर अचानक उसके बेटे की मौत हो गई. एक शख्स ने ट्वीट के जरिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को इस घटना की जानकारी दी.

ट्वीट के बाद सुषमा ने कुआलालंपुर स्थित भारतीय उच्चायोग के जरिए मदद का आश्वासन दिया और कहा कि शव सरकार के खर्चे पर भारत लाया जाएगा.

सुषमा ने बाद में ट्वीट किया, "भारतीय उच्चायोग के अधिकारी मां और उसके बेटे के शव के साथ मलेशिया से चेन्नई आ रहे हैं. शोक संपतप्त परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं."



बीमार पाकिस्तानी बच्चे को 24 घंटे में दिया मेडिकल वीजा
बीते दिनों नोएडा के जेपी हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने पाकिस्तान के लाहौर से आए एक महीने के बच्चे को नई जिंदगी दी है. रेहान दिल की गंभीर बीमारी से पीड़ित था, जिसका इलाज पाकिस्तान में संभव नहीं था. रेहान के माता-पिता भारत आकर बच्चे का इलाज कराना चाहते थे, लेकिन मेडिकल वीजा नहीं मिल पा रहा था. ट्विटर पर जब विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद मांगी तब जाकर उन्हें सिर्फ 24 घंटे में मेडिकल वीजा मिल गया.

बच्चे की मां ने सुषमा स्वराज का आभार व्यक्त किया है. 7 सितंबर 2017 को रेहान को जेपी अस्पताल लाया गया था, अस्पताल के डॉ राजेश शर्मा की टीम ने 8 सितंबर को बच्चे का सर्जरी की, उसके बाद करीब 3 महीने तक बच्चा हॉस्पिटल में ही रहा. अब रेहान पूरी तरह से स्वस्थ है और जल्दी पाकिस्तान वापस लौट जाएगा.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर