• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन का जल्द शुरू होगा काम, 7 रूटों पर बुलेट ट्रेन चलाने की तैयारी!

मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन का जल्द शुरू होगा काम, 7 रूटों पर बुलेट ट्रेन चलाने की तैयारी!

दिल्ली-अहमदाबाद रूट में राजस्थान के 7 जिलों से होकर गुजरेगी बुलेट ट्रेन. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

दिल्ली-अहमदाबाद रूट में राजस्थान के 7 जिलों से होकर गुजरेगी बुलेट ट्रेन. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Bullet Train : मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन का काम जल्द शुरू होगा. अहमदाबाद की ओर से शुरू होने वाले इस काम के लिए टेंडर जारी किए जा चुके हैं. गुजरात में इस प्रोजेक्ट के लिए 90 फ़ीसदी भूमि का अधिग्रहण किया जा चुका है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. रेल मंत्री पीयूष गोयल (Rail Minister Piyush Goyal) ने कहा कि मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन (Mumbai-Ahmedabad Bullet Train) का काम जल्द शुरू होगा. अहमदाबाद की ओर से शुरू होने वाले इस काम के लिए टेंडर जारी किए जा चुके हैं. गुजरात में इस प्रोजेक्ट के लिए 90 फ़ीसदी भूमि का अधिग्रहण किया जा चुका है. लेकिन महाराष्ट्र (Maharastra) में भूमि ना मिलने के कारण इस परियोजना का काम उस तरफ से ठप पड़ा है. इसमें रफ्तार लाने के लिए जल्द ही राज्य सरकार के साथ वार्तालाप किया जाएगा.
    दरअसल रेल मंत्री पीयूष गोयल आज प्रदेश भाजपा (BJP) कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करने के लिए पहुंचे हुए थे. इस अवसर पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता, प्रदेश महामंत्री कुलजीत सिंह चहल और मीडिया प्रमुख नवीन कुमार भी उपस्थित थे.
    मंत्री ने कहा कि इसके अलावा देश में 7 मार्गों पर सभी बुलेट ट्रेन सेवा देने की तैयारियां भी जारी है. उन्होंने रेल बजट का जिक्र करते यह भी कहा कि जिस तरह से आत्मनिर्भर बजट में प्रस्ताव रखे गए हैं, उससे भारतीय रेलवे वर्ष 2030 तक विश्व की पहली प्रदूषण रहित रेलवे बन जाएगी. अगले तीन सालों में सभी ट्रेनें डीजल मुक्त हो जाएगी जिसके कारण पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त करने में सहायता मिलेगी.
    2030 तक रेलवे के मार्गों पर बुलेट व सेमी बुलेट सेवा देने में होंगे कामयाब
    मंत्री पीयूष ने भारतीय रेलवे के आने वाले समय की योजनाओं के बारे में बात करते हुए कहा कि रेलवे को पूरी तरह से आत्मनिर्भर बनाने और जनता को बेहतरीन सुविधा उपलब्ध कराने के लिए जो कार्यक्रम तैयार किया गया है, उससे वर्ष 2030 तक रेलवे अनेक मार्गों पर बुलेट और सेमी बुलेट सेवा देने में कामयाब हो जाएगी.
    4.5 लाख मेगावाट बिजली उत्पादन कार्य 2030 तक होगा पूरा
    उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) बिजली और नवीकरण ऊर्जा के सबसे बड़े समर्थकों में से एक हैं. यही कारण है कि वर्ष 2030 तक नवीकरण ऊर्जा द्वारा 4.5 लाख मेगावाट बिजली उत्पादन का कार्य पूरा कर लिया जाएगा.
    10 सालों में बिजली आधारित दो व चार पहिया वाहनों का उत्पादन होगा शुरू
    उन्होंने कहा कि इसके साथ ही इस अवधि तक बिजली चलित वाहनों (Electric Vehicles) को देशभर में चलाने का प्रयत्न किया जा रहा है. अगले 10 सालों में देश भी पूरी तरह से बिजली आधारित दो-पहिया और चार पहिया वाहनों का भी उत्पादन और चलाने का कार्यक्रम शुरु कर दिया जाएगा. इसके लिए बड़े स्तर पर अनुदान देने का प्रस्ताव है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज