Yaas Cyclone: बंगाल की खाड़ी के ऊपर गहरा दबाव चक्रवात ‘यास’ में तब्दील, 165 KM/HR की रफ्तार से चलेगी हवा

चक्रवात के उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर धीरे-धीरे बढ़ने का अनुमान है (फोटो-IMD)

चक्रवात के उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर धीरे-धीरे बढ़ने का अनुमान है (फोटो-IMD)

Yaas Cyclone: चक्रवात के उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर धीरे-धीरे बढ़ने का अनुमान है, जो अगले 24 घंटों के दौरान भीषण चक्रवाती तूफान में और उसके बाद 24 घंटों के दौरान एक बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है.

  • Share this:

नई दिल्ली. बंगाल की खाड़ी के ऊपर गहरा दबाव सोमवार तड़के चक्रवात ‘यास’ (Yaas Cyclone) में तब्दील हो गया और इसके अगले 24 घंटे में तेज होकर भीषण चक्रवाती तूफान में बदलने का अनुमान है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने चक्रवात के 26 मई को ‘अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान’ के रूप में दोपहर के आस-पास पारादीप और सागर द्वीप के बीच उत्तर ओडिशा-पश्चिम बंगाल के तटों को पार करने का अनुमान है. इस दौरान, 155 से 165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है.

आईएमडी के च्रकवात चेतावनी डिपार्टमेंट ने कहा, ‘ चक्रवात के उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर धीरे-धीरे बढ़ने का अनुमान है, जो अगले 24 घंटों के दौरान भीषण चक्रवाती तूफान में और उसके बाद 24 घंटों के दौरान एक बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है.’

Youtube Video

चक्रवात के प्रभाव से निपटने की तैयारी
पश्चिम बंगाल और ओडिशा सरकार चक्रवात के प्रभाव से निपटने की तैयारी में जुटे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चक्रवात ‘यास’ से निपटने के लिए रविवार को एक उच्च स्तरीय बैठक में राज्यों एवं केन्द्र सरकार की एजेंसियों की तैयारियों की समीक्षा की थी और समुद्री गतिविधियों में शामिल लोगों को समय से सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के निर्देश दिए थे.


सेना तैनात



सशस्त्र बल भी सतर्क पर हैं, नौसेना ने चार युद्धपोतों और कई विमानों को भी तैयार रखा है. अधिकारियों ने बताया कि वायुसेना ने मानवीय सहायता और आपदा राहत कार्यों को अंजाम देने के लिए 11 परिवहन विमान और 25 हेलीकॉप्टर तैयार रखे हैं. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के प्रमुख एसएन प्रधान ने दोनों राज्यों के अधिकारियों से आसन्न प्राकृतिक आपदा के लिए पूरी तरह तैयार रहने को कहा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज