Cyclone Yaas Updates: हाई अलर्ट पर झारखंड, अगले 12 घंटों में और कमजोर होगा यास; PM मोदी आज करेंगे समीक्षा बैठक

मौसम विभाग ने बताया कि गुरुवार को ओडिशा में भी यास के चलते जमकर बारिश हुई. (फाइल फोटो-ANI)

मौसम विभाग ने बताया कि गुरुवार को ओडिशा में भी यास के चलते जमकर बारिश हुई. (फाइल फोटो-ANI)

Cyclone Yaas Updates: अधिकारियों ने जानकारी दी है कि झारखंड (Jharkhand) को अभी हाई अलर्ट पर रखा गया है और 15 हजार लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. वहीं, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में लगातार राहत कार्य जारी है.

  • Share this:

Cyclone Yaas Updates: ओडिशा (Odisha) और पश्चिम बंगाल (West Bengal) में तबाही मचाने के बाद अब यास तूफान कमजोर पड़ रहा है. मौसम विभाग के अनुसार तूफान अगले 12 घंटों में कम दबाव वाले क्षेत्र में बदल जाएगा. विभाग ने जानकारी दी है कि शुक्रवार को पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार में बारिश हो सकती है. खबर है कि यास डिप्रेशन में बदलकर झारखंड में पहुंच गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज बंगाल पहुंचकर राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के साथ समीक्षा बैठक करेंगे.

मौसम विभाग के अनुसार, यास तूफान कमजोर कर होकर कम दबाव वाले क्षेत्र में बदल गया है. गुरुवार रात यह दक्षिण झारखंड और उससे सटे ओडिशा के पास था. अधिकारियों ने जानकारी दी है कि झारखंड को अभी हाई अलर्ट पर रखा गया है और 15 हजार लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. वहीं, ओडिशा और पश्चिम बंगाल में लगातार राहत कार्य जारी है. खबर है कि इस तूफान ने करीब 8 लाख लोगों को प्रभावित किया है.

बंगाल में बिजली गिरने से मौत

भाषा के अनुसार, पश्चिम बंगाल में गुरुवार को बिजली गिरने की अलग-अलग घटनाओं में कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई. आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि मुर्शिदाबाद जिले के हरिहरपाड़ा में दो किशोरों की तथा नदिया जिले के नकाशीपाड़ा में एक और व्यक्ति की आकाशीय बिजली गिरने से मृत्यु हो गयी. अधिकारी के अनुसार पूर्व मेदिनीपुर के नंदीग्राम में दो लड़के आसमान से गिरी बिजली की चपेट में आने से मारे गये. राज्य में चक्रवाती तूफान यास के आने के एक दिन बाद कई शहरों और जिलों में भारी बारिश हुई.


मौसम विभाग ने बताया कि गुरुवार को ओडिशा में भी यास के चलते जमकर बारिश हुई. इस दौरान कियोंझार जिले के जोड़ा में 268.6 मिमी बारिश दर्ज की गई है. वहीं, मयूरभंज जिले के जशिपुर इलाके में 254.8 मिमी बारिश हुई. पीएम मोदी शुक्रवार को बालासोर, भद्रक और पूर्व मेदिनिपुर का हवाई दौरा करेंगे. वहीं, भारत को तूफान से निपटने के लिए संयुक्त राष्ट्र ने मदद का हाथ आगे बढ़ाया है. यूएन के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा है कि संस्था जरूरत पड़ने पर भारत की मदद के लिए तैयार है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज