लाइव टीवी

13 साल की थी जब किया अगवा, कई बार बेचा गया और हुआ रेप, लड़की ने सुनाई आपबीती

News18Hindi
Updated: November 6, 2019, 4:37 PM IST
13 साल की थी जब किया अगवा, कई बार बेचा गया और हुआ रेप, लड़की ने सुनाई आपबीती
ISIS के शिकंजे से छूटी रेप पीड़िता ने सुनाई आपबीती

एक पीड़िता ने बताया कि 3 अगस्त 2014 को 13 साल की उम्र में उसे आईएसआईएस (ISIS) ने अगवा (Kidnap) किया था. उसने बताया ‘मेरा यौन उत्पीड़न न जाने कितनी बार हुआ. तीन बार मुझे आतंकियों (Terrorist) के हाथों बेचा गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2019, 4:37 PM IST
  • Share this:
मुंबई. ‘मैं जब 13 साल की थी, तब आईएसआईएस (ISIS) ने मुझे अगवा किया था. करीब एक साल तक मेरे साथ जानवरों की तरह सलूक किया गया और तीन-तीन बार आतंकवादियों (Terrorist) के हाथों बेचा गया.’ ये दिल दहला देने वाली घटना 18 वर्षीय एक लड़की (Girl) के साथ घटी. जिसने मंगलवार को अपनी आपबीती सुनाई और ISIS की ज्यादतियों के बारे में बताया.

‘ऑफिस ऑफ रेस्क्यूड यजीदीज’ के निदेशक हुसैन अल कायदी ने आतंकी गुट (Terrorist Group)  के शिकंजे से मुक्त कराई गई कुछ रेप (Rape) पीड़िताओं के साथ यहां एक संवाददाता सम्मेलन किया. एक स्थानीय एनजीओ (NGO) के सहयोग से हुए इस संवाददाता सम्मेलन में पीड़िताओं ने उत्तरी इराक के सिंजार में आईएसआईएस के चंगुल में रहते हुए बिताए गए अपने भयावह दिनों को बयां किया.

'13 साल की थी जब मुझे अगवा किया गया'
एक पीड़िता ने बताया कि तीन अगस्त 2014 को 13 साल की उम्र में उसे आईएसआईएस ने अगवा किया था. उसने बताया ‘मेरा यौन उत्पीड़न न जाने कितनी बार हुआ. तीन बार मुझे आतंकियों के हाथों बेचा गया. बंधक के तौर पर गुजारे गए साल को भूलना मेरे लिए संभव नहीं है. यह जीवन भर रिसने वाला घाव है.’

कुर्द क्षेत्रीय सरकार के प्रतिनिधियों और आईएसआईएस की ज्यादतियों की शिकार पीड़िताओं ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से संघर्ष वाले हिस्सों में फंसे यजीदियों और कुर्दों को वहां से हटाने तथा उनके पुनर्वास में मदद करने की अपील की. एक प्रतिनिधि ने बताया कि सिंजार से अमेरिकी बलों को वापस बुलाने का फैसला सही नहीं है, क्योंकि इससे इलाके में आईएसआईएस का आतंक बढ़ेगा, खासकर यजीदी जैसे अल्पसंख्यक मजहबी समूह उनके निशाने पर आएंगे.

‘ISIS के लड़ाकों से लड़कियों की करा दी गई शादी’
अल कायदी ने कहा ‘2014 से सिंजार में आईएसआईएस ने अतिक्रमण किया और हजारों यजीदी अपने घर छोड़कर भागने को मजबूर हो गए. कुछ को जिंदा जलाया गया, कुछ को गोली मारी गई और कुछ जीवित ही दफना दिए गए. लड़कों को आतंकवाद का प्रशिक्षण देकर बंदूक थमा दी गई, तो लड़कियों से बलात्कार किया गया, उन्हें यौन गुलाम बनाया गया या आईएसआईएस के आतंकियों से उनकी शादी कर दी गई.’
Loading...

6,417 यजीदियों को किया गया अगवा
उन्होंने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने सीरियाई कुर्दों का साथ देने से मना कर दिया है, जिसकी वजह से संकट गहरा गया है क्योंकि आतंकी गुट दाएश के लोग बेलगाम घूम रहे हैं. ‘ऑफिस ऑफ रेस्क्यूड यजीदीज’ के एक अधिकारी कवयार उमर अहमद ने कहा ‘आईएसआईएस ने कम से कम 6,417 यजीदियों का अपहरण किया, जिनमें से 3,515 को मुक्त करा लिया गया, लेकिन 2,902 यजीदी अब भी उनके कब्जे में हैं.’

(इनपुट भाषा)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 4:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...