लाइव टीवी

JNU कुलपति को हटाने के लिए करीब 100 सांसद राष्ट्रपति को पत्र लिखेंगे: येचुरी

News18Hindi
Updated: January 8, 2020, 5:30 AM IST
JNU कुलपति को हटाने के लिए करीब 100 सांसद राष्ट्रपति को पत्र लिखेंगे: येचुरी
सीताराम येचुरी ने कहा है कि राष्ट्रपति को पत्र लिखकर जेएनयू वीसी को हटाने की मांग की जाएगी (फाइल फोटो)

सीताराम येचुरी (Sitaram Yechury) ने कहा, “संसद के कई सदस्यों, करीब 100 से संपर्क किया गया है और उन्होंने राष्ट्रपति (President) जो कि विश्वविद्यालय (University) के विजिटर भी हैं, उन्हें पत्र लिखने का फैसला किया है जिसमें कुलपति (VC) को हटाने का अनुरोध किया जाएगा.”

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 8, 2020, 5:30 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. माकपा नेता (CPI-M Leader) सीताराम येचुरी (Sitaram Yechury) ने मंगलवार को कहा कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के कुलपति को हटाने की मांग करते हुए करीब 100 सांसद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) को पत्र लिखेंगे. वह विश्वविद्यालय (University) के शिक्षक संघ और छात्र संघ द्वारा आयोजित बैठक को संबोधित कर रहे थे.

येचुरी ने कहा, “संसद के कई सदस्यों, करीब 100 से संपर्क किया गया है और उन्होंने राष्ट्रपति (President) जो कि विश्वविद्यालय (University) के विजिटर भी हैं, उन्हें पत्र लिखने का फैसला किया है जिसमें कुलपति को हटाने का अनुरोध किया जाएगा.”

JNU VC ने हिंसा पर देरी से कार्रवाई की बात पर दिया गोलमोल जवाब
JNU हिंसा मामले में मंगलवार को अपनी चुप्पी तोड़ते हुए जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के कुलपति एम जगदीश कुमार (M Jagdish Kumar) ने कहा कि यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण थी और छात्रों से बीती बात भूलने की अपील की लेकिन पांच जनवरी को नकाबपोशों के हमले के दौरान अधिकारियों द्वारा देर से कदम उठाए जाने के आरोपों पर गोलमोल जवाब दिया.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “अगर कानून-व्यवस्था (Law and Order) की कोई समस्या है तो हम तत्काल पुलिस के पास नहीं जाते हैं. हम देखते हैं कि हमारे सुरक्षा गार्ड इससे निपट सकते हैं या नहीं. रविवार को, जब हमने देखा कि छात्रों के बीच आक्रामक व्यवहार की संभावना है तो हमने पुलिस को सूचित किया.”

JNUSU प्रेसिडेंट आइशी घोष समेत 19 स्टूडेंट्स के खिलाफ FIR
जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में हुए हिंसा के मामले में स्टूडेंट यूनियन की अध्यक्ष आइशी घोष (Aishe Ghosh) समेत 19 छात्रों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, जेएनयू में 4 जनवरी को जो मारपीट और सर्वर रूम तोड़ने की एफआईआर दर्ज हुई है, उसमें JNUSU अध्यक्ष आइशी घोष और उनके 7-8 साथियों के नाम शामिल हैं. ये एफआईआर जेएनयू प्रशासन की तरफ से 5 जनवरी को दर्ज कराई गई थी.रविवार रात को कुछ नकाबपोश बदमाशों में जेएनयू कैंपस (JNU Campus) में घुसकर छात्रों और टीचरों की लोहे की रॉड-डंडे से पिटाई की थी. इसमें कुल 34 छात्र-छात्राएं जख्मी हो गए थे, जिनमें आइशी घोष भी शामिल थीं. मारपीट में आइशी के सिर पर काफी गहरी चोटें आई, जिसके बाद उन्हें एम्स के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करना पड़ा था.

यह भी पढ़ें: JNU Violence: हमले में घायल JNUSU अध्यक्ष समेत 19 छात्रों के खिलाफ FIR दर्ज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 8, 2020, 5:30 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर