विश्वास मत जीतने के बाद अब कैबिनेट की तैयारी में येडियुरप्पा

बीजेपी सूत्रों ने कहा कि येडियुरप्पा हो सकता है कि फिलहाल बड़े पैमाने पर कैबिनेट विस्तार नहीं करें.

भाषा
Updated: July 30, 2019, 5:11 AM IST
विश्वास मत जीतने के बाद अब कैबिनेट की तैयारी में येडियुरप्पा
बीजेपी सूत्रों ने कहा कि येडियुरप्पा हो सकता है कि फिलहाल बड़े पैमाने पर कैबिनेट विस्तार नहीं करें.
भाषा
Updated: July 30, 2019, 5:11 AM IST
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येडियुरप्पा के सोमवार को विधानसभा में बहुमत साबित करने के बाद अब उनका ध्यान कैबिनेट विस्तार पर होगा जो कि इस सप्ताहांत तक पूरा होने की उम्मीद है. यह बात बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने कही.

बीजेपी को विधानसभाध्यक्ष पद के लिए अपने उम्मीदवार के नाम को अंतिम रूप देना होगा क्योंकि सदन में विश्वासमत हासिल करने के बाद के आर रमेश कुमार ने विधानसभाध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया.

बीजेपी के वरिष्ठ नेता एवं विधायक सुरेश कुमार ने कहा, 'एक चरण पूरा हो गया है, बीजेपी ने सदन में विश्वासमत हासिल कर लिया. अगला क्रम कैबिनेट विस्तार होगा. राज्य और केंद्र दोनों ही जगह हमारे वरिष्ठ नेता बैठक करेंगे इस पर जल्द फैसला करेंगे.'

उन्होंने कहा, 'मैं समझता हूं कि यह इस सप्ताहांत तक पूरा हो जाएगा.'

यह भी पढ़ें:  कांग्रेस के बागी विधायक पहुंचे सुप्रीम कोर्ट, ये है वजह

अब येडियुरप्पा हैं सीएम

कांग्रेस..जदएस गठबंधन सरकार के कुछ विधायकों की बगावत के चलते गिरने के तीन दिन बाद येडियुरप्पा को शुक्रवार को मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ दिलायी गई थी.
Loading...

सुरेश कुमार बीजेपी के प्रवक्ता भी हैं. उन्होंने कहा कि नये विधानसभाध्यक्ष के बारे में फैसला एक या दिन में हो जाएगा क्योंकि पद को खाली नहीं रखा जा सकता.

उन्होंने यद्यपि इस पद के लिए स्वयं के नाम पर विचार होने की अटकलों को खारिज कर दिया और कहा कि 'इस बारे में किसी ने मुझसे बात नहीं की है.'

यह भी पढ़ें:  जानें कर्नाटक के नए CM और MLAs को कितनी मिलती है सैलरी?

पार्टी नेतृत्व से चर्चा किये जाने की उम्मीद 

बीजेपी सूत्रों के अनुसार येडियुरप्पा के जल्द ही दिल्ली का दौरा करने और इस संबंध में पार्टी नेतृत्व से चर्चा किये जाने की उम्मीद है.

कैबिनेट विस्तार पर निर्णय के दौरान येडियुरप्पा को काफी मंथन करना होगा क्योंकि मंत्री पद के लिए कई दावेदार हैं. यद्यपि उन्हें थोड़ी राहत भी है क्योंकि उन्हें कांग्रेस..जदएस के बागियों को अभी तत्काल शामिल करने की बाध्यता नहीं होगी जिनके इस्तीफों से बीजेपी को सरकार बनाने में मदद मिली. ऐसा इसलिए क्योंकि उनमें से 17 को विधानसभाध्यक्ष ने अयोग्य ठहरा दिया है.

अयोग्य ठहराये गए विधायकों ने इस निर्णय के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने का निर्णय किया है.

बीजेपी सूत्रों ने कहा कि येडियुरप्पा हो सकता है कि फिलहाल बड़े पैमाने पर कैबिनेट विस्तार नहीं करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 30, 2019, 5:10 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...