यस बैंक मामला: राणा कपूर ने पत्नी के नाम पर लुटियंस दिल्ली में खड़ी की थी 1000 करोड़ की प्रॉपर्टी

अपनी पत्नी और बेटियों के साथ राणा कपूर (ट्विटर)

यस बैंक (Yes Bank) के संस्थापक राणा कपूर (Rana Kapoor) भारत में अपनी सारी संपत्ति बेचकर विदेश बस जाने की फिराक में थे. हालांकि इससे पहले ही प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने उन्हें कस्टडी में ले लिया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. यस बैंक (Yes Bank) के संस्थापक राणा कपूर (Rana Kapoor) भारत में अपनी सारी संपत्ति बेचकर विदेश बस जाने की फिराक में थे. हालांकि इससे पहले ही प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने उन्हें कस्टडी में ले लिया. ईडी की कस्टडी में आने से पहले राणा कपूर भारत में अपनी तीन बड़ी प्रॉपर्टी बेचने की कोशिश में थे, जिनकी कीमत करीब 1000 करोड़ बताई जा रही है. राणा की ये प्रॉपर्टी भी अब जांच एजेंसी के रडार पर है.

    ये तीन प्रॉपर्टी 40 अमृता शेरगिल मार्ग, चाणक्यपुरी स्थित 18 कौटिल्य मार्ग और सरदार पटेल मार्ग स्थित डिप्लोमेटिक एन्क्लेव में स्थित हैं. जानकारी के मुताबिक, ये प्रॉपर्टी सीधे तौर पर राणा कपूर से जुड़ी नहीं हैं. हालांकि, ईडी के अधिकारियों का कहना है कि यस बैंक के पूर्व चीफ राणा कपूर इन तीन प्रॉपर्टी को बेचना चाहते थे. इसके लिए उन्होंने राजधानी के टॉप प्रॉपर्टी डीलर्स से अच्छे खरीददार देखने को कहा था.

    किसकी है ये प्रॉपर्टी?
    बताया जा रहा है कि ये तीनों प्रॉपर्टी राणा कपूर की पत्नी बिंदु कपूर की हैं, जो लगभग 4,300 करोड़ रुपये के संदिग्ध लेने-देन के लिए ईडी जांच के दायरे में हैं. बिंदु कपूर ने लुटियंस दिल्ली के प्राइम लोकेशन 40 अमृता शेरगिल मार्ग में एक आलीशान बंग्ला खरीदा है. इसकी रजिस्ट्री उनकी कंपनी ब्लिस अबोड लिमिटेड के नाम से की गई है. वहीं बाकी दोनों प्रॉपर्टी ब्लिस विला (दिल्ली) प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर है.

    बता दें कि सीबीआई ने सोमवार को यस बैंक के सह-संस्थापक राणा कपूर के परिवार को कथित रूप से 600 करोड़ रुपये की रिश्वत देने के मामले में सात स्थानों पर छापे मारे थे. सीबीआई ने अपनी रिपोर्ट में पांच कंपनियों, कपूर की पत्नी और तीन बेटियों सहित सात व्यक्तियों और अन्य अज्ञात लोगों को नामजद किया था. राणा कपूर के अलावा उनकी पत्नी बिंदु, बेटी रोशिनी, राखी और राधा पर मुकदमा दर्ज किया गया और पूछताछ की जा रही है.

    फर्जी कंपनियां बनाई
    ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से आईएएनएस ने बताया, 'कपूर और उनकी पत्नी बिंदु और तीन बेटियों समेत उनके परिवार के सदस्यों ने कथित तौर पर रिश्वत लेने के लिए 20 से अधिक फर्जी कंपनियां बनाई थीं'. उन्होंने बताया कि रिश्वत में लिए गए पैसे का इस्तेमाल प्रॉपर्टी में निवेश करने में किया गया. कहा जा रहा है कि फर्जी कंपनियों के जरिए उन कॉरपोरेट कंपनियों से रिश्वत लिए गए जिनको बैंक से कर्ज दिया गया था.

     

    लोन के बदले रिश्वत
    ईडी ने शनिवार को कपूर की तीन बेटियों के मुंबई और दिल्ली स्थित आवासों की तलाशी ली थी. ईडी को शक है कि कपूर और डूइट अर्बन वेंचर्स की निदेशक उनकी दो बेटियों ने कथित तौर पर डीएचएफएल से रिश्वत ली थी. कहा जा रहा है कि 4,450 करोड़ रुपये डीएचएलएल द्वारा 80 फर्जी कंपनियों के जरिए की गई. इन फर्जी कंपनियों में डूइट अर्बन वेंचर्स भी शामिल हैं.

     महीनों पहले लंदन भाग गए थे राणा कपूर, मोदी सरकार ने यूं लालच देकर बुलाया

    Yes Bank Crisis: राणा कपूर ने पत्नी-बेटी के साथ मिलकर लोन के बदले रिश्वत का इस तरह खेला 'खेल'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.