Home /News /nation /

कोरोना वायरस की रफ्तार हुई धीमी, पहली बार एक दिन की ग्रोथ रेट केवल 6 फीसदी

कोरोना वायरस की रफ्तार हुई धीमी, पहली बार एक दिन की ग्रोथ रेट केवल 6 फीसदी

भारत में कोरोना वायरस के ग्रोथ रेट में काफी कमी आई है.

भारत में कोरोना वायरस के ग्रोथ रेट में काफी कमी आई है.

देश में जब लॉकडाउन (Lockdown) लगा था तब संक्रमित मरीजों की कुल संख्‍या लगभग 500 थी. उस समय कोरोना वायरस (CoronaVirus) की डेली ग्रोथ लगभग 20 फीसदी थी. हालांकि अब डेली ग्रोथ रेट में काफी कमी आई है. ये लगभग 8 फीसदी रह गई है.

    नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस महामारी (CoronaVirus) पर काबू पाने के लिए देश भर में लागू लॉकडाउन (LockDown) को एक महीने हो गए हैं. सरकार के इस प्रभावशाली कदम से कोरोना के बढ़ने की रफ्तार में काफी कमी आई है. अगर एक दिन का आंकड़ा (शुक्रवार सुबह 8 बजे से शनिवार सुबह 8 बजे तक) देखे तो भारत में नए मामलों की वृद्धि दर 6 फीसदी है. यह भारत में 100 मामलों को पार करने के बाद से दर्ज की गई सबसे कम दैनिक वृद्धि दर है.

    अगर समय पर लॉकडाउन नहीं होता तो बुरे होते हालात
    अगर लॉकडाउन के दौरान पूरे महीने के आंकड़ों पर नजर डालें तो वायरस के फैलने की रफ्तार में भारी कमी देखने को मिलेगी. अगर सरकार ने देश में लॉकडाउन लगाने के लिए केसों के बढ़ने का इंतजार किया होता तो आज हालात कुछ और ही होते. ऐसा अनुमान है कि अगर समय पर लॉकडाउन नहीं लगता तो देश में अभी तक 8 से 9 गुना ज्‍यादा पॉजिटिव मामले सामने आ चुके होते. संख्‍या में यह आंकड़ा 2 लाख के पार होता.

    बता दें कि देश में जब लॉकडाउन लगा था तब संक्रमित मरीजों की कुल संख्‍या लगभग 500 थी. उस समय कोरोना वायरस की डेली ग्रोथ लगभग 20 फीसदी थी. जबकि 25 अप्रैल को कोरोना के मामले 24000 से ज्‍यादा हो गए. हालांकि डेली ग्रोथ रेट में काफी कमी आई है. डेली ग्रोथ लगभग 8 फीसदी रह गई है.

    सांसदों, विधायकों के प्रयासों में समन्वय के लिये संसद भवन में नियंत्रण कक्ष स्थापित
    कोरोना वायरस की चुनौती से निपटने में सांसदों एवं विधायकों के प्रयासों में समन्वय के लिये संसद भवन में एक 'नियंत्रण कक्ष' स्थापित किया गया है. लोकसभा सचिवालय के अधिकारियों ने बताया कि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के साथ विधानसभा अध्यक्षों एवं पीठासीन अधिकारियों की 21 अप्रैल 2020 को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये चर्चा के दौरान नियंत्रण कक्ष स्थापित करने का निर्णय लिया गया था.

    इसका उद्देश्य कोविड-19 का मुक़ाबला करने एवं तुरंत सहायता पहुंचाने के लिए सांसदों, विधायकों और आम जनता के बीच शीघ्र संपर्क स्थापित करने में मदद करना है. सचिवालय के बयान में कहा गया है कि इस निर्णय के अनुरूप ही संसद भवन में तत्काल प्रभाव से एक नियंत्रण कक्ष ने कार्य करना शुरू कर दिया है.

    ये भी पढ़ें :-

    गोरखपुर में 3 लाख लोगों ने डाउनलोड किया आरोग्य सेतु ऐप, मगर...
    COVID-19: कश्मीर में आवाजाही पर पाबंदी जारी, लॉकडाउन का पालन करने की अपील
    दिल्ली पुलिस को अपने ही विभाग की एक महिलाकर्मी पर क्यों दर्ज करानी पड़ी FIR?
    COVID-19: लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों की पुलिस ने उतरवाई शर्ट, फिर... 

    Tags: Coronavirus, Coronavirus in India, Coronavirus pandemic, Government, Lockdown

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर