Chandrayaan 2: यहां देख सकते हैं चंद्रयान-2 की LIVE लैंडिंग, शो के होस्ट होंगे NASA के अंतरिक्षयात्री

News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 12:39 AM IST
Chandrayaan 2: यहां देख सकते हैं चंद्रयान-2 की LIVE लैंडिंग, शो के होस्ट होंगे NASA के अंतरिक्षयात्री
चंद्रयान 2 की लैंडिंग 6 सिंतबर की रात को होनी है (न्यूज18 क्रिएटिव)

नेशनल ज्योग्राफिक (National Geographic) ने मंगलवार को घोषणा की है कि यह अपने दर्शकों (Viewers) को जीवन में सिर्फ एक बार होने वाला ऐतिहासिक अनुभव चंद्रयान-2 (Chandrayaan-2) की लैंडिंग का एक्सक्लूसिव लाइव प्रसारण (Exclusive Live Telecast) करके दिखाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 7, 2019, 12:39 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: भारतीय स्पेस एजेंसी इसरो (ISRO) के महत्वकांशी मिशन के तहत चंद्रयान 2 (Chandrayaan 2) 6-7 सितंबर की आधी रात को चांद पर लैंड कर जाएगा. नेशनल ज्योग्राफिक (National Geographic) ने बीते मंगलवार को घोषणा की है कि यह अपने दर्शकों को जीवन में सिर्फ एक बार होने वाला ऐतिहासिक अनुभव चंद्रयान-2 (Chandrayaan-2) की लैंडिंग का एक्सक्लूसिव लाइव प्रसारण (Exclusive Live Telecast) करके दिखाएगा. चंद्रयान-2 की लैंडिंग 6-7 सितंबर की रात 01:30 से 02:30 के बीच होगी.

-इसरो की आधिकारिक वेबसाइट पर चंद्रयान-2 लैंडिंग की लाइव स्ट्रीमिंग होगी. इसके लिए यहां क्लिक करें.

- प्रेस इंफॉरमेशन ब्यूरो (PIB) भी अपने YouTube पेज पर लाइव स्ट्रीमिंग दिखाएगा.



    • - मोबाइल यूजर्स चंद्रमा पर चंद्रयान-2 की लैंडिंग को हॉटस्टार पर भी देख सकते हैं. हॉटस्टार पर 6 सितंबर को रात 11:30 PM बजे से शो स्टार्ट हो जाएगा.


    Loading...





  • - इतना ही नहीं टीवी चैनल ने इस घटना के लिए अच्छे से तैयारी कर रखी है और वह नासा (NASA) के अंतरिक्षयात्री (Astronaut) जेरी लिलेनगर को भी इस एक्सक्लूसिव शोastro पर लेकर आएंगे. जो दर्शकों से अपने अंतरिक्ष के अनुभव भी शेयर करेंगे.


 



'सिर्फ भारत ही नहीं मानव सभ्यता को फायदा पहुंचाएगा चंद्रयान-2'
इस संबंध में लिलेनगर ने एक बयान में कहा है, धरती से अलग अंतरिक्ष में खोजों के बारे में पिछले कुछ सालों में भारत का योगदान महत्वपूर्ण रहा है. चंद्रयान-2 एक महत्वपूर्ण मिशन (Important Mission) है जो कि हमें यह जानने में मदद करेगा कि चांद पर पानी (Water on Moon) का अस्तित्व है या नहीं. उन्होंने कहा कि इस जानकारी से सिर्फ भारत को ही नहीं बल्कि पूरी मानव सभ्यता को फायदा होगा.

अंतरिक्ष में लगी आग से बच निकले थे लिनेनगर
उन्होंने यह भी कहा, मैं भारत में इस ऐतिहासिक क्षण का साक्षी बनने के लिए उत्साहित हूं और आप लोगों से भी गुजारिश करता हूं कि आप भारत को इतिहास बनाते हुए देखें.

लिनेनगर, अंतरिक्ष में रहने के दौरान एक खतरनाक आग से बचकर वापस धरती पर लौट आए थे. इस कारनामे के चलते उन्हें उस दौरान बहुत ख्याति मिली थी. इस घटना को अंतरिक्ष (Space) के इतिहास की सबसे ड्रामे से भरी घटनाओं में गिना जाता है. उन्होंने रूसी स्पेस स्टेशन मीर में करीब-करीब पांच महीने अंतरिक्ष में गुजारे थे.

यह भी पढ़ें: चांद के और करीब पहुंचा चंद्रयान-2, 4 सेकेंड का ऑपरेशन सफल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 6, 2019, 8:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...