टीकाकरण के युवा कांग्रेस ने चलाया अभियान, घर-घर जाकर करा रहे पंजीकरण

भारत में वैक्सीन कार्यक्रम जारी है. (फाइल फोटो)

भारत में वैक्सीन कार्यक्रम जारी है. (फाइल फोटो)

Vaccination in India: युवा कांग्रेस के मुताबिक, पिछले कई हफ्तों से लोगों को ऑक्सीजन (Oxygen), प्लाज्मा, बेड और जरूरी दवाएं उपलब्ध कराने के बाद अब गरीब परिवारों को राशन उपलब्ध कराने पर जोर दिया जा रहा है और इसके लिए प्रदेश और जिला स्तर पर टीमें भी गठित की गई हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) की युवा इकाई भारतीय युवा कांग्रेस ने कोरोना रोधी टीकाकरण (Coronavirus Vaccination) के लिए जरूरी पंजीकरण में गरीबों की मदद के मकसद से एक विशेष अभियान शुरू किया है जिसके तहत संगठन के कार्यकर्ता शहरी इलाकों की झुग्गी बस्तियों एवं गांवों में गरीब परिवारों तक पहुंचकर लोगों का पंजीकरण करवा रहे हैं.

युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बी.वी. ने सोमवार को बताया कि इंटरनेट, स्मार्ट फोन और जागरुकता के अभाव के चलते बहुत सारे गरीब परिवार टीकाकरण से वंचित हैं, इस कारण यह अभियान शुरू किया गया है. उन्होंने कहा, ‘हमने अलग अलग प्रदेशों में अपने कार्यकर्ताओं की स्थानीय स्तर पर टीम गठित की है जो गरीब परिवारों तक पहुंचकर उनका टीकाकरण के लिए पंजीकरण करवाती हैं. अभी कई राज्यों में टीके की कमी है, इसलिए फिलहाल 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के पंजीकरण पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है.’

Youtube Video

यह भी पढ़ें: क्या कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होने वाला जिंक है ब्लैक फंगस का कारण? एक्सपर्ट ने की जांच की मांग
भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और सोशल मीडिया विभाग के प्रमुख वैभव वालिया का कहना है, ‘युवा कांग्रेस की सोशल मीडिया की टीम के जरिए भी लोगों को टीकाकरण संबंधी पंजीकरण में मदद की जा रही है. लोग व्हाट्सएप और फोन के जरिए संपर्क करते हैं और फिर हमारी टीम उनकी मदद करती है.’ युवा कांग्रेस के मुताबिक, पिछले कई हफ्तों से लोगों को ऑक्सीजन, प्लाज्मा, बेड और जरूरी दवाएं उपलब्ध कराने के बाद अब गरीब परिवारों को राशन उपलब्ध कराने पर जोर दिया जा रहा है और इसके लिए प्रदेश और जिला स्तर पर टीमें भी गठित की गई हैं.


गुजरात प्रदेश युवा कांग्रेस के उपाध्यक्ष निखिल सवानी ने बताया, ‘हमने गुजरात में पिछले कुछ हफ्तों में 112 लोगों को प्लाज्मा तथा कई लोागें को ऑक्सीजन उपलब्ध कराया. अब संक्रमण में कमी आने के बाद हमारी प्राथमिकता गरीबों को राशन उपलब्ध कराने की है. उन्होंने कहा, ‘गुजरात के कई अस्पतालों, झुग्गी बस्तियों तथा गरीब परिवारों तक हम भोजन उपलब्ध करा रहे हैं. सोशल मीडिया के जरिए लोगों तक मदद पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं.’

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज