• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Sadbhavna Diwas: पूर्व PM राजीव गांधी की जयंती पर देशभर में होंगे कार्यक्रम, द‍िल्‍ली में लगेगी फोटो प्रदर्शनी

Sadbhavna Diwas: पूर्व PM राजीव गांधी की जयंती पर देशभर में होंगे कार्यक्रम, द‍िल्‍ली में लगेगी फोटो प्रदर्शनी

युवा कांग्रेस पूर्व पीएम भारत रत्न राजीव गांधी की जयंती सद्भावना दिवस पर फोटो एग्जिबिशन व अनेकों कार्यक्रम आयोजित करेगी.  (फाइल फोटो)

युवा कांग्रेस पूर्व पीएम भारत रत्न राजीव गांधी की जयंती सद्भावना दिवस पर फोटो एग्जिबिशन व अनेकों कार्यक्रम आयोजित करेगी. (फाइल फोटो)

Sadbhawna Diwas 2021: युवा कांग्रेस की ओर से पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न राजीव गांधी की जन्म जयंती 20 अगस्‍त को सद्भावना दिवस पर दिल्ली में फोटो एग्जिबिशन का आयोजन क‍िया जाएगा. साथ ही देश भर में सांस्कृतिक कार्यक्रम, खेल कार्यक्रम, राष्ट्र के नाम दौड़, रक्तदान शिविर जैसे अनेकों कार्यक्रम भी आयोज‍ित करेगी.

  • Share this:

    नई दिल्ली. भारतीय युवा कांग्रेस (Indian Youth Congress) की ओर से पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) की जन्म जयंती 20 अगस्‍त को सद्भावना दिवस (Sadbhawna Diwas) पर दिल्ली में फोटो एग्जिबिशन का आयोजन क‍िया जाएगा. साथ ही देश भर में सांस्कृतिक कार्यक्रम, खेल कार्यक्रम, राष्ट्र के नाम दौड़, रक्तदान शिविर जैसे अनेकों कार्यक्रम भी आयोज‍ित करेगी.

    भारतीय युवा कांग्रेस (IYC) के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी वी ने कहा क‍ि राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) आधुनिक भारत के वास्तुकार थे, जिन्होंने भारत को मजबूत और आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में काम किया. उनकी दूरदर्शिता का फायदा देश आज भी उठा रहा है. उन ही की दूरदर्शिता ने भारत को मजबूत, आधुनिक राष्ट्रों की श्रेणी में खड़ा किया है. राजीव गांधी के नेतृत्व में भारत ने विकास के आयाम को छुआ था. उन्होंने देश के हर वर्ग के उत्थान की तरफ ध्यान देकर उन्हें मजबूत करने का काम किया. राजीव गांधी ने शांति स्थापना के जरिए देश में विकास का मार्ग प्रशस्त किया.

    ये भी पढ़ें: कर्नाटक: कोरोना से ठीक होने के बाद मरीजों को हो रहा है टीबी, अब बड़े पैमाने पर होंगे टेस्ट 

    श्रीनिवास ने कहा कि “हम में है राजीव” अर्थात भारत रत्न राजीव गांधी आज भी हम सब के साथ हैं. 40 वर्ष की उम्र में प्रधानमंत्री बनने वाले राजीव गांधी ने आधुनिक भारत की नींव रखने की दिशा में काम किया. डिजिटल इंडिया का आर्किटेक्ट और सूचना तकनीक व दूरसंचार क्रांति का जनक कहा जाता है.

    उनकी पहल पर भारतीय दूरसंचार नेटवर्क की स्थापना हुई. शहर से लेकर गांवों तक दूरसंचार का जाल बिछना शुरू हुआ, जिससे गांव की जनता भी संचार के मामले में देश-दुनिया से जुड़ सकी. युवा प्रधानमंत्री राजीव गांधी की नजर में देश में वोट देने की उम्रसीमा गलत थी. उन्होंने 18 वर्ष की उम्र के युवाओं को मताधिकार देकर उन्हें देश के प्रति और जिम्मेदार तथा सशक्त बनाने की पहल की.

    ये भी पढ़ें: UP में कांग्रेस का जयभारत महासम्पर्क अभियान आज से, 75 घंटे में 75 लाख लोगों तक पहुंचेंगे नेता 

    राष्ट्रीय अध्यक्ष ने यह भी कहा कि राजीव गांधी का मानना था कि विज्ञान और तकनीक की मदद के बिना उद्योगों का विकास नहीं हो सकता. इस क्रम में उन्होंने देश में कंप्यूटर क्रांति लाने की दिशा में काम किया. पंचायतीराज से जुड़ी संस्थाएं मजबूती से विकास कार्य कर सकें. इस सोच के साथ उन्‍होंने देश में पंचायतीराज व्यवस्था को सशक्त किया. उनका मानना था कि जब तक पंचायती राज व्यवस्था सबल नहीं होगी, तब तक निचले स्तर तक लोकतंत्र नहीं पहुंच सकता.

    ये भी पढ़ें: मीडिया से बात करते रो पड़ीं कांग्रेस की महिला सांसद, BJP ने जलाया भूपेश बघेल का पुतला, जानें- क्या है मामला? 

    उन्‍होंने गांवों के बच्चों को भी उत्कृष्ट शिक्षा मिले, इस सोच के साथ ही जवाहर नवोदय विद्यालयों की नींव डाली थी. मौजूदा समय में देश में खुले 551 नवोदय विद्यालयों में 1.80 लाख से अधिक छात्र पढ़ाई कर रहे हैं. राजीव गांधी ने युवाओं और खेल को भी प्रोत्साहित किया. उन्होंने यह भी कहा कि वह देश के नायक थे और रहेंगे, वे अपनी शहादत, अपने विचारो, और आधुनिक भारत के निर्माता के तौर पर जाने जाते रहेंगे.

    ये भी पढ़ें: UP News: 1 करोड़ युवाओं को स्मार्टफोन, सरकारी कर्मचारियों को महंगाई भत्ता सहित CM योगी के 5 बड़े ऐलान  

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज