कच्छ बॉर्डर के नजदीक पकड़ा गया युवक, बोला-गर्लफ्रेंड से मिलने पाकिस्तान जाना है

कच्छ बॉर्डर के नजदीक पकड़ा गया युवक, बोला-गर्लफ्रेंड से मिलने पाकिस्तान जाना है
सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने जीशान को पाकिस्तान बॉर्डर के डेढ़ किलोमीटर पहले पकड़ा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पूछताछ में लड़ने के बताया कि उसका नाम मोहम्मद जीशान (Mohammed Zishan) है और वो महाराष्ट्र के ओस्मानाबाद का रहने वाला है. लेकिन जब जवानों ने उसके कच्छ क्षेत्र में होने का कारण जाना तो हैरान रह गए. दरअसल जीशान का कहना था कि वो कराची की रहने वाली अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने जा रहा था.

  • Share this:
मुंबई. गुजरात में सीमा सुरक्षा बल (Border Security Force) के सामने एक बिल्कुल फिल्मी कहानी सामने आई है. दरअसल कच्छ के रण (Rann of Kutch) में बीएसएफ को 20 साल का एक युवक तकरीबन बेहोशी की हालत में मिला. उसकी हालत बुरी थी. बुरी तरह पसीने से तर-ब-तर वो चला जा रहा था. बीएसएफ के जवानों ने उसे रोका और फिर थोड़ी देर बाद तबीयत ठीक होने पर पूछताछ की. पूछताछ में लड़ने के बताया कि उसका नाम मोहम्मद जीशान है और वो महाराष्ट्र के ओस्मानाबाद का रहने वाला है. लेकिन जब जवानों ने उसके कच्छ क्षेत्र में होने का कारण जाना तो हैरान रह गए. दरअसल जीशान का कहना था कि वो कराची की रहने वाली अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने जा रहा था.

पैदल ही कच्छ का रेगिस्तान पार करने की योजना
ओस्मानाबाद से ढोलावीरा के इलाके तक वो बाइक से पहुंचा था और फिर कच्छ के रास्ते पैदल ही जा रहा था. बीएसएफ द्वारा जारी किए गए एक स्टेटमेंट में बताया गया है-जीशान को 6 जुलाई की रात करीब 9 बजे रोका गया. वो भारत-पाकिस्तान इंटरनेशल बॉर्डर से सिर्फ डेढ़ किलोमीटर पीछे था. वो अवैध तरीके से सीमा पार कर पाकिस्तान जाने की फिराक में था.

दो घंटे तक था बेहाश
जीशान बीएसएफ को बिल्कुल बेहाल स्थिति में मिला. बीएसएफ को मिलने तक वो दो घंटे तक कच्छ के रेगिस्तान में ही बेहाश पड़ा हुआ था. अधिकारियों ने बताया है कि जीशान ने कहा कि पाकिस्तान की सामरा नाम की लड़की से उसकी दोस्ती फेसबुक के जरिए हुई थी. वो पाकिस्तान के कराची के शाह फैसल इलाके में रहती है. फेसबुक पर हुई ये मुलाकात प्रेम में बदल गई. दोनों फेसबुक और वाट्सअप पर लगातार एक दूसरे के संपर्क में रहते हैं.



परिवार ने दर्ज कराई है गुमशुदगी की रिपोर्ट
जीशान के परिवारवालों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा रखी है. परिवार वालों को अंदेशा था कि जीशान पाकिस्तान जा सकता है. इसलिए महाराष्ट्र क्राइम ब्रांच ने गुजरात पुलिस से संपर्क साधा था.

(अरुणिमा की रिपोर्ट)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज