दो लोगों को कुचलने के बाद बैन हुए गजराज ने किया महोत्सव का शुभारंभ

इस सेलेब्रिटी हाथी के हैं कई फैन्स

इस सेलेब्रिटी हाथी के हैं कई फैन्स

रामचंद्रन ने एक उत्सव के दौरान दो लोगों को कुचल दिया था जिससे उनकी मौत हो गई. घटना के बाद जिला प्रशासन ने रामचंद्रन के उत्सवों में हिस्सा लेने पर बैन लगा दिया था.

  • Share this:

केरल के प्रमुख त्योहार त्रिशूर पूरम महोत्सव की शुरुआत हो गई है. त्रिशूर नगर में हर साल त्रिशूर पूरम उत्सव थेक्किनाडु मैदान पर्वत पर वडक्कुन्नाथन मंदिर में, नगर के बीचों बीच आयोजित किया जाता है. इस बार 54 वर्षीय हाथी तेचिककोट्टूकवू रामचंद्रन ने इसकी शुरुआत की. रामचंद्रन को मेडिकल और फिटनेस टेस्ट के बाद रविवार को उत्सव का हिस्सा बनने की अनुमति मिली.

ये भी देखें- गुजरात में ऐसे किया जा रहा है बीमार पेड़ों का इलाज

दरअसल इस साल फरवरी में 10.5 फीट लंबे रामचंद्रन ने एक उत्सव के दौरान दो लोगों को कुचल दिया था जिससे उनकी मौत हो गई. घटना के बाद जिला प्रशासन ने रामचंद्रन के उत्सवों में हिस्सा लेने पर बैन लगा दिया था. आपकों बता दें कि इस सेलेब्रिटी हाथी के केरल में कई फैन्स हैं. इस बार त्रिशूर पूरम पर रामचंद्रन की वापसी से सभी लोग काफी खुश दिखे.


साल 2014 से रामचंद्रन केरल के कई रीति-रिवाज़ों का हिस्सा बन चुका है. पशु चिकित्सकों ने केरल के सबसे ऊंचे हाथी तेचिककोट्टूकवू रामचंद्रन को मेडिकल एग्ज़ामिनेशन के बाद महज एक घंटे के लिए ही उत्सव में शामिल होने की इज़ाजत दी. इस बार त्रिशूर पूरम 13 और 14 मई को मनाया जाएगा. राज्य में सुरक्षा के सारे इंतजाम पुख्ता कर दिए गए हैं. इलाके में 3500 पुलिसकर्मियों की टीम त्यौहार के खत्म होने तक तैनात की गई है.



ऐसी ही अजब-ग़ज़ब कहानियों और VIDEOS के लिए क्लिक करें

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज