• Home
  • »
  • News
  • »
  • photo
  • »
  • यहां कैसे होगा अनशन

यहां कैसे होगा अनशन

अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। 

मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।

अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।

अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।

  • Share this:
    [caption id="attachment_305791"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305792"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305793"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305794"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305795"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305796"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305797"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305798"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305799"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305800"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305801"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption][caption id="attachment_305802"]अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है। <br />
<br />
मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे। अन्ना हजारे के महाअनशन के लिए जो रामलीला मैदान दिया गया है। लेकिन उसकी हालत बेहद खस्ता है। मैदान में मौजूद गड्ढों में साफ सफाई के लिए आए ट्रक और जेसीबी धंस गए हैं। चारों तरफ कीचड़ और गढ्ढे हैं, बारिश का पानी भरा हुआ है।

    मैदान पर मौजूद गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि उनमें गिरकर कोई भी जख्मी हो सकता है। एमसीडी खुद मान रही है कि मैदान की हालत आज रात से पहले ठीक नहीं हो सकती है। मैदान ठीक करने के लिए एमसीडी ने जो ट्रक और जेसीबी मशीन लगाई हैं। उन्हें भी काम करने में भारी दिक्कत हो रही है। मैदान की खस्ता हालत देखकर ही टीम अन्ना ने ऐलान कर दिया कि अन्ना कल सुबह सात बजे से पहले तिहाड़ नहीं छोड़ेंगे।[/caption]

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज