Home /News /photo /

ये हैं सांसद रेखा

ये हैं सांसद रेखा

राज्यसभा सांसद के तौर पर शपथ लेने के बाद आज से रेखा सांसद रेखा कहलाएंगी।

राज्यसभा सांसद के तौर पर शपथ लेने के बाद आज से रेखा सांसद रेखा कहलाएंगी।

राज्यसभा सांसद के तौर पर शपथ लेने के बाद आज से रेखा सांसद रेखा कहलाएंगी।

    राज्यसभा में आज ग्लैमर की चकाचौंध भरी रेखा खिंच गई।
    राज्यसभा में आज ग्लैमर की चकाचौंध भरी रेखा खिंच गई।
    हल्का पीलापन लिए क्रीम कलर की साडी पहनकर आईं रेखा ने जब सदन में पिछले दरवाजे से कदम रखा तो अनेक जोड़ी निगाहें उनकी ओर घूम गईं।
    हल्का पीलापन लिए क्रीम कलर की साडी पहनकर आईं रेखा ने जब सदन में पिछले दरवाजे से कदम रखा तो अनेक जोड़ी निगाहें उनकी ओर घूम गईं।
    कइयों ने कनखैयों से उन्हें देखा तो जया बच्चन पीठ फेरकर किसी तरह का अहसास मन में न होने का बहाना कर निगाहें इधर उधर घुमाएं रखीं।
    कइयों ने कनखैयों से उन्हें देखा तो जया बच्चन पीठ फेरकर किसी तरह का अहसास मन में न होने का बहाना कर निगाहें इधर उधर घुमाएं रखीं।
    सभापति हामिद अंसारी ने शपथ ग्रहण के लिए रेखा का नाम पुकारा तो रेखा हौले कदमों से देश की संसद के ऊपरी सदन के गुंबद के ठीक बीचोंबीच चल पडीं।
    सभापति हामिद अंसारी ने शपथ ग्रहण के लिए रेखा का नाम पुकारा तो रेखा हौले कदमों से देश की संसद के ऊपरी सदन के गुंबद के ठीक बीचोंबीच चल पडीं।
    सदन को उन्होंने भरपूर निहारा तो ‘दीवारों दर को गौर से पहचान लीजिए’ का नग्मा खामोश सदन में गूंजता महसूस हुआ।
    सदन को उन्होंने भरपूर निहारा तो ‘दीवारों दर को गौर से पहचान लीजिए’ का नग्मा खामोश सदन में गूंजता महसूस हुआ।
    मैं रेखा गणेशन शपथ लेती हूं, रेखा ने भरपूर मिठास के साथ ये वाक्य उस पर्ची को पढ़ते हुए दोहरा दिए जिसे वह काफी देर से मुट्ठी में दबाए हुए थीं।
    मैं रेखा गणेशन शपथ लेती हूं, रेखा ने भरपूर मिठास के साथ ये वाक्य उस पर्ची को पढ़ते हुए दोहरा दिए जिसे वह काफी देर से मुट्ठी में दबाए हुए थीं।
    शपथ पूरी करने के बाद वह सभापति के आसन तक गईं और आदाब की मुद्रा में उन्होंने अंसारी का अभिवादन किया और उनके आसन के पीछे से घूमकर वापस सदन के बीचोंबीच आईं।
    शपथ पूरी करने के बाद वह सभापति के आसन तक गईं और आदाब की मुद्रा में उन्होंने अंसारी का अभिवादन किया और उनके आसन के पीछे से घूमकर वापस सदन के बीचोंबीच आईं।
    दूसरा अभिवादन उन्होंने विपक्ष की बैंच पर बैठीं नजमा हेपतुल्ला को किया।
    दूसरा अभिवादन उन्होंने विपक्ष की बैंच पर बैठीं नजमा हेपतुल्ला को किया।
    बीच में आकर वह रूकीं नहीं और उन सीटों की ओर भी उनकी नजरें नहीं गईं जहां जया बच्चन बैठी हुई थीं।
    बीच में आकर वह रूकीं नहीं और उन सीटों की ओर भी उनकी नजरें नहीं गईं जहां जया बच्चन बैठी हुई थीं।
    सदन में कांग्रेस की बैंचों की ओर आते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के सामने लगभग आधा झुकते हुए प्रणाम किया और फिर उन्हें आवंटित की गईं सीट नंबर 99 पर अनु आगा के साथ आकर बैठ गईं।
    सदन में कांग्रेस की बैंचों की ओर आते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के सामने लगभग आधा झुकते हुए प्रणाम किया और फिर उन्हें आवंटित की गईं सीट नंबर 99 पर अनु आगा के साथ आकर बैठ गईं।
     वहां उनके पड़ेस में अर्थ शास्त्री अशोक गांगुली बैठे थे और इस बैंच पर जावेद अख्तर भी थे।
    वहां उनके पड़ेस में अर्थ शास्त्री अशोक गांगुली बैठे थे और इस बैंच पर जावेद अख्तर भी थे।
    इससे पहले सदन में प्रवेश करते ही उनका सामना बीजेपी की स्मृति जुबिन ईरानी से हुआ।
    इससे पहले सदन में प्रवेश करते ही उनका सामना बीजेपी की स्मृति जुबिन ईरानी से हुआ।
    दक्षिण के स्टार चिरंजीवी बहुत उल्लास भरे अंदाज से उनसे मिलने आए।
    दक्षिण के स्टार चिरंजीवी बहुत उल्लास भरे अंदाज से उनसे मिलने आए।
    एकमात्र चिरंजीवी ही थे जिनसे रेखा ने हाथ मिलाकर गर्मजोशी से मुलाकात की।
    एकमात्र चिरंजीवी ही थे जिनसे रेखा ने हाथ मिलाकर गर्मजोशी से मुलाकात की।
    उनसे विशेष रूप से मिलने के लिए कांग्रेस के मणिशंकर आए और मनोनीत एच के दुआ उन्हें सदन की आरंभिक जानकारी देते देखे गए।
    उनसे विशेष रूप से मिलने के लिए कांग्रेस के मणिशंकर आए और मनोनीत एच के दुआ उन्हें सदन की आरंभिक जानकारी देते देखे गए।
    सुबह 10 बजकर 20 मिनट पर रेखा संसद भवन पहुंची। संसद पहुंचने के बाद रेखा ने सेक्रेटरी जनरल विवेक अग्निहोत्री से मुलाकात की। इसके साथ ही संसदीय कार्य राज्य मंत्री राजीव शुक्ला भी मौजूद थे।
    सुबह 10 बजकर 20 मिनट पर रेखा संसद भवन पहुंची। संसद पहुंचने के बाद रेखा ने सेक्रेटरी जनरल विवेक अग्निहोत्री से मुलाकात की। इसके साथ ही संसदीय कार्य राज्य मंत्री राजीव शुक्ला भी मौजूद थे।
    इसके बाद रेखा ने उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी से मुलाकात की और फिर पीएम से मिलीं।
    इसके बाद रेखा ने उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी से मुलाकात की और फिर पीएम से मिलीं।
    इससे पहले रेखा जब संसद भवन पहुंची तो उन्हें 12 नम्बर गेट से घुसना था लेकिन रेखा की एक झलक पाने के लिए लोगों की इतनी भीड़ थी कि उन्हें 5-7 मिनट तक गाड़ी में ही बैठे रहना पड़ा। आखिरकार उन्हें दूसरे गेट से एन्ट्री करनी पड़ी।
    इससे पहले रेखा जब संसद भवन पहुंची तो उन्हें 12 नम्बर गेट से घुसना था लेकिन रेखा की एक झलक पाने के लिए लोगों की इतनी भीड़ थी कि उन्हें 5-7 मिनट तक गाड़ी में ही बैठे रहना पड़ा। आखिरकार उन्हें दूसरे गेट से एन्ट्री करनी पड़ी।
    गौरतलब है कि कि रेखा को 26 अप्रैल को राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने मनोनीत किए जाने की मंजूरी दी थी।
    गौरतलब है कि कि रेखा को 26 अप्रैल को राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने मनोनीत किए जाने की मंजूरी दी थी।
    [caption id="attachment_313646"]सरकार ने रेखा की शानदार अभिनय को सम्मान देते हुए राज्यसभा के लिए चुना है।<br />
सरकार ने रेखा की शानदार अभिनय को सम्मान देते हुए राज्यसभा के लिए चुना है।
    [/caption][caption id="attachment_313647"]सरकार ने रेखा की शानदार अभिनय को सम्मान देते हुए राज्यसभा के लिए चुना है।<br />
सरकार ने रेखा की शानदार अभिनय को सम्मान देते हुए राज्यसभा के लिए चुना है।
    [/caption]

    Tags: Bollywood, Rajya sabha, Rekha

    अगली ख़बर