भिवानी का मुक्का

देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)


Updated: March 5, 2015, 7:09 PM IST
भिवानी का मुक्का
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)

Updated: March 5, 2015, 7:09 PM IST
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)
देश को एक से बढ़कर एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज देने वाले भिवानी के बॉक्सिंग क्लब में प्रैक्टिस करते मुक्केबाज। बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीत देश का गौरव बढ़ाने वाले मुक्केबाज विजेंद्र सिंह भिवानी बॉक्सिंग क्लब की ही देन हैं। मुक्केबाजों के गढ़ के रूप में प्रसिद्ध भिवानी को मिनी क्यूबा भी कहा जाता है। इसबार लंदन ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा मुक्केबाज दल भेज रहा है जिसमें सात पुरुष और एक महिला मैरी कॉम हैं। (फोटो: एपी)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 18, 2012, 12:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...