लाइव टीवी

करगिल विजय के 15 साल


Updated: March 6, 2015, 2:58 AM IST
करगिल विजय के 15 साल
आज करगिल विजय के 15 साल पूरे हो गए हैं। ठीक पंद्रह साल पहले भारतीय सेना ने पाकिस्तान की सेना को धूल चटाई थी। इस खास मौके पर दिल्ली में इंडिया गेट पर रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ करगिल के शहीदों को श्रद्धांजलि दी। तस्वीरों में देखें।

आज करगिल विजय के 15 साल पूरे हो गए हैं। ठीक पंद्रह साल पहले भारतीय सेना ने पाकिस्तान की सेना को धूल चटाई थी। इस खास मौके पर दिल्ली में इंडिया गेट पर रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ करगिल के शहीदों को श्रद्धांजलि दी। तस्वीरों में देखें।

  • Last Updated: March 6, 2015, 2:58 AM IST
  • Share this:
आज करगिल विजय के 15 साल पूरे हो गए हैं। ठीक पंद्रह साल पहले भारतीय सेना ने पाकिस्तान की सेना को धूल चटाई थी। इस खास मौके पर दिल्ली में इंडिया गेट पर रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ करगिल के शहीदों को श्रद्धांजलि दी। तस्वीरों में देखें।
आज करगिल विजय के 15 साल पूरे हो गए हैं। ठीक पंद्रह साल पहले भारतीय सेना ने पाकिस्तान की सेना को धूल चटाई थी। इस खास मौके पर दिल्ली में इंडिया गेट पर रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ करगिल के शहीदों को श्रद्धांजलि दी। तस्वीरों में देखें।
करगिल सीमा पर ये घुसपैठ 2 मई 1999 को शुरू हुई। करगिल की लड़ाई लगभग तीन महीने तक चली थी और इसमें सैंकड़ों भारतीय जवान शहीद हुए।
करगिल सीमा पर ये घुसपैठ 2 मई 1999 को शुरू हुई। करगिल की लड़ाई लगभग तीन महीने तक चली थी और इसमें सैंकड़ों भारतीय जवान शहीद हुए।
फरवरी 1999 में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने पाकिस्तान का दौरा किया था, लेकिन उसके कुछ महीने के बाद ही दोनों देशों के बीच करगिल युद्ध शुरू हो गया।
फरवरी 1999 में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने पाकिस्तान का दौरा किया था, लेकिन उसके कुछ महीने के बाद ही दोनों देशों के बीच करगिल युद्ध शुरू हो गया।
कल आर्मी चीफ जनरल बिक्रम सिंह ने द्रास सेक्टर के वार मेमोरियल में शहीदों को श्रद्धांजलि दी थी।
कल आर्मी चीफ जनरल बिक्रम सिंह ने द्रास सेक्टर के वार मेमोरियल में शहीदों को श्रद्धांजलि दी थी।
विजय दिवस के मौके पर आज द्रास के वॉर मेमोरियल पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, जहां सेना के जवान और शहीदों के परिजन मौजूद रहेंगे।
विजय दिवस के मौके पर आज द्रास के वॉर मेमोरियल पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, जहां सेना के जवान और शहीदों के परिजन मौजूद रहेंगे।
शहीद जवानों के परिजन विजय दिवस के मौके पर हर साल यहां युद्ध स्मारक का दौरा करके शहीदों को याद करते हैं। 1999 में करगिल में लड़ाई तब शुरू हुई जब पाकिस्तानी सेना ने घुसपैठियों को समर्थन देना शुरू कर दिया था।
शहीद जवानों के परिजन विजय दिवस के मौके पर हर साल यहां युद्ध स्मारक का दौरा करके शहीदों को याद करते हैं। 1999 में करगिल में लड़ाई तब शुरू हुई जब पाकिस्तानी सेना ने घुसपैठियों को समर्थन देना शुरू कर दिया था।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 26, 2014, 4:53 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर