होम /न्यूज /podcast /Postcast: आखिर क्‍यों बढ़ने लगे पुरुषों में स्‍तन कैंसर के मामले?

Postcast: आखिर क्‍यों बढ़ने लगे पुरुषों में स्‍तन कैंसर के मामले?

Sehat Ki Baat: ब्रेस्‍ट कैंसर के लिए लाइफ स्‍टाइट, फूड हैबिट्स और स्‍ट्रेस को भी अहम रूप से जिम्‍मेदार माना जा रहा है. 

Sehat Ki Baat: ब्रेस्‍ट कैंसर के लिए लाइफ स्‍टाइट, फूड हैबिट्स और स्‍ट्रेस को भी अहम रूप से जिम्‍मेदार माना जा रहा है. 

ब्रेस्‍ट कैंसर के मामले अब सिर्फ महिलाओं तक ही सीमित नहीं हैं, पुरुषों में भी ब्रेस्‍ट कैंसर के मामले तेजी से देखे जा र ...अधिक पढ़ें

नमस्‍कार, मैं अनूप कुमार मिश्र, न्‍यूज 18 हिंदी के हेल्‍थ पॉडकॉस्‍ट में एक बार फिर हाजिर हूं आपकी सेहत से जुड़े नए सवाल के साथ. आज का सवाल है …क्‍या पुरुषों को स्‍तन कैंसर हो सकता ? इस सवाल का जवाब है- हां. हाल में ही, पुरूष स्‍तन कैंसर का एक मामला दिल्‍ली के पटपड़गंज मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में सामने आया है. दरअसल, दिल्‍ली में रहने वाल 70 वर्षीय एक बुजुर्ग, स्‍नत में गांठ की शिकायत लेकर अस्‍पताल पहुंचे थे. उन्‍हे दो साल पहले अपने स्‍तन में गांठ का अहसास हुआ था, लेकिन तब वे इस गांठ को नजर अंदाज कर गए थे.

कुछ महीने पहले, अचानक इस गांठ में तेजी से बढ़ोत्‍तरी होने लगी. इस असामान्‍य बढ़ोत्‍तरी ने इन बुजुर्ग को चिंता में डाल दिया. चूंकि, उस समय कोविड लॉकडाउन चल रहा था, लिहाजा बुजुर्ग इलाज के लिए हॉस्पिटल नही पहुंच सके. लॉकडाउन खुलने तक बुजुर्ग की परेशानी बहुत बढ़ गई और वे इलाज के लिए पटपड़गंज मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल पहुंच गए. हॉस्पिटल में हिस्टोपैथोलॉजी और रेडियोलॉजी जांच के बाद दाहिने स्‍तन में ग्रेड III का कैंसर कंफर्म हो गया.

इस कैंसर की पहचान इनवेसिव डक्टल कार्सिनोमा के रूप में हुई. स्‍तन कैंसर की पुष्टि होने के बाद बुजुर्ग का इलाज शुरू हुआ. सितंबर 2021 में बुजुर्ग मरीज को रेडिकल मास्टेक्टॉमी ट्रीटमेंट दिया गया. फिलहाल, कीमोथेरेपी की  प्रक्रिया जारी है. उपचार शुरू होने के बाद, बुजुर्ग में तेजी से सुधार हो रहा है और अब वे अपने सभी काम कर रहे हैं. यहां 70 वर्ष के बुजुर्ग अकेले ऐसे नहीं हैं जो ब्रेस्‍ट कैंसर से प‍ीडि़त हैं. रिपोर्ट के अनुसार, हर 833 लोगों में एक शख्‍स ब्रेस्‍ट कैंसर का शिकार हो रहा है.

अब सवाल यह है कि अचानक से पुरुषों में ब्रेस्‍ट कैंसर होने के क्‍या कारण हैं या इसके लक्षण क्‍या हैं. इन तमाम सवालों का जवाब देने के लिए हमने बात की पटपड़गंज मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के ऑन्कोलॉजी डिपार्टमेंट में वरिष्ठ निदेशक डॉ. मीनू वालिया से.

Tags: Cancer, Health, Health tips, Sehat ki baat

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें