Home /News /politics /

चिदंबरम के खिलाफ सुब्रमण्यम स्वामी ने कोर्ट में दी गवाही

चिदंबरम के खिलाफ सुब्रमण्यम स्वामी ने कोर्ट में दी गवाही

टेलीकॉम घोटाले में गृहमंत्री पी. चिदंबरम को आरोपी बनाए जाने को लेकर जनता पार्टी के नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने आज पटियाला हाउस कोर्ट में गवाही दी। स्वामी की आज की गवाही खत्म हो गई है।

टेलीकॉम घोटाले में गृहमंत्री पी. चिदंबरम को आरोपी बनाए जाने को लेकर जनता पार्टी के नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने आज पटियाला हाउस कोर्ट में गवाही दी। स्वामी की आज की गवाही खत्म हो गई है।

टेलीकॉम घोटाले में गृहमंत्री पी. चिदंबरम को आरोपी बनाए जाने को लेकर जनता पार्टी के नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने आज पटियाला हाउस कोर्ट में गवाही दी। स्वामी की आज की गवाही खत्म हो गई है।

    नई दिल्ली। टेलीकॉम घोटाले में गृहमंत्री पी. चिदंबरम को आरोपी बनाए जाने को लेकर जनता पार्टी के नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने आज पटियाला हाउस कोर्ट में गवाही दी। स्वामी की आज की गवाही खत्म हो गई है। ये गवाही 7 जनवरी को भी जारी रहेगी। सुब्रह्मण्यम स्वामी ने आज अपना बयान दर्ज कराया। बाकि बचा बयान 7 जनवरी को दर्ज होगा। कोर्ट ने स्वामी को कहा कि जो भी कागजात आपने कोर्ट में जमा कराया है उसकी सर्टिफाइड कॉपी भी 7 जनवरी को ही कोर्ट में पेश करें।

    टेलीकॉम घोटाला मामले में चिदंबरम को सह आरोपी बनाए जाने के मामले में आज सुब्रह्मण्यम स्वामी की गवाही हुई। गवाही के दौरान स्वामी ने कोर्ट को वो तारीख बताई जब चिदंबरम और ए राजा कथित तौर पर 2 जी स्पैक्ट्रम मामले पर मिले। स्वामी के मुताबिक पहली बार चिदंबरम और राजा की मुलाकात 30 जनवरी 2008 को हुई, इसके बाद इसी साल 29 मई और 12 जून को मुलाकात के बाद दोनों की फाइनल मीटिंग 4 जुलाई 2008 को हुई, जिसके बाद दोनों प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से मिले।

    स्वामी ने कोर्ट को सबूत के तौर पर एकट्ठा किए गए तमाम दस्तावेज भी दिखाए। इसके साथ ही सीएजी की ड्राफ्ट रिपोर्ट का भी हवाला दिया। स्वामी के मुताबिक चिदंबरम और राजा टेलीकॉम मामले पर मिलकर काम कर रहे थे।

    Tags: 2G scam, Court, Subramanian swamy

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर