Home /News /politics /

गहलोत सरकार आपको धोखा दे रही है सोनिया जी!

गहलोत सरकार आपको धोखा दे रही है सोनिया जी!

महिलाओं ने सोनिया के सामने आरोप लगाया कि जिन लोगों को सोनिया से पीड़ित कहकर अशोक गहलोत ने मिलवाया वो बस्ती के थे ही नहीं। बाहर के लोगों को लाकर सोनिया से मिलवाया गया। बस्ती वालों को दूसरी जगह कैम्प से दूर रखा गया है।

    जयपुर। यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी राजस्थान के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर हालात का जायजा लेने पहुंचीं। जयपुर के बाढ़ प्रभावित इलाके के दौरे के दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत साथ में खड़े थे। कोई हंगामा न हो इसलिए एसटीएफ को तैनात किया गया था। गिने-चुने लोगों को ही सोनिया से मिलने दिया गया था। बाढ़ पीड़ितों ने आरोप लगाया कि जिन लोगों को सोनिया से मिलाया गया, उन्हें तो कल शाम को ही लाया गया था।

    बाढ़ पीड़ितों ने इस दौरान सोनिया गांधी की गाड़ी को रोका। सोनिया गांधी जैसे ही सरकार की ओर से लगाए गए टैंट में बाढ़ पीड़ितों से मिलकर अपनी कार की तरफ बढ़ीं और कार आगे बढ़ी तो कुछ महिलाएं बस्ती से दौड़ कर आईं और बैरिकेटिंग तोड़कर सोनिया के काफिले में घुस गईं। ये महिलाएं सोनिया की कार के आगे लेटने की कोशिश करने लगीं। इसके बाद सोनिया ने महिलाओं से बात की।

    महिलाओं ने सोनिया के सामने आरोप लगाया कि जिन लोगों को सोनिया से पीड़ित कहकर अशोक गहलोत ने मिलवाया वो बस्ती के थे ही नहीं। बाहर के लोगों को लाकर सोनिया से मिलवाया गया। बस्ती वालों को दूसरी जगह कैम्प से दूर रखा गया है। बाढ़ पीड़ितों से मिलने के बाद सोनिया गांधी ने कहा कि शिविरों में रह रहे लोगों की परेशानी से वो चिंतित हैं और जल्द ही सूबे की सरकार लोगों से बातचीत कर उन्हें पूरी मदद मुहैया कराएगी।

    गौरतलब है कि इलाके के लोग राहत काम में हो रही देरी से खासे नाराज हैं। खास बात ये कि सोनिया के दौरे के लिए पूरे इलाके को रातोंरात चमका दिया गया था। लोग हफ्ते भर से परेशान थे लेकिन सरकार ने सुध नहीं ली लेकिन सोनिया के आने से पहले पीड़ितों के बीच मिठाई तक बंटवा दी गई।

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर