Home /News /politics /

'मुलायम को सीबीआई के जरिए किया जा रहा है ब्लैकमेल'

'मुलायम को सीबीआई के जरिए किया जा रहा है ब्लैकमेल'

प्रमोशन में आरक्षण मुद्दे पर अलग थलग पड़ी समाजवादी पार्टी ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पार्टी ने यूपीए सरकार पर सीबीआई के जरिए मुलायम सिंह यादव को ब्लैकमेल करने का सनसनीखेज आरोप लगाया है।

    नई दिल्ली।प्रमोशन में आरक्षण मुद्दे पर अलग थलग पड़ी समाजवादी पार्टी ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पार्टी ने यूपीए सरकार पर सीबीआई के जरिए मुलायम सिंह यादव को ब्लैकमेल करने का सनसनीखेज आरोप लगाया है। पार्टी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि एफडीआई नीति और प्रमोशन में आरक्षण का विरोध करने के चलते केंद्र सरकार उन्हें निशाना बना रही है। हालांकि सरकार ने इस आरोप को बेबुनियाद करार दिया है।

    एफडीआई के मुद्दे पर सरकार को अप्रत्यक्ष तौर पर मदद करने का आरोप झेल रही समाजवादी पार्टी ने आखिर वो बात कह डाली जिसकी चर्चा सियासी गलियारों में हर रोज होती आई है। समाजवादी पार्टी ने केंद्र की यूपीए सरकार पर सनसनीखेज आरोप लगाते हुए उसपर हमला बोला है। पार्टी प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने रविवार को एक बयान जारी कर सरकार पर सीबीआई के जरिए पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव को ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है। बयान में कहा गया है कि एफडीआई और प्रमोशन में कोटा के विरोध में खड़े मुलायम सिंह यादव को घेरने और उन्हें सीबीआई का भय दिखाने की साजिश चल रही है।

    मुलायम सिंह यादव के विरोध को दबाने के लिए सीबीआई के जरिए ब्लैकमेल की नीति अपनाई जा रही है। सीबीआई के पूर्व निदेशक यू एस मिश्रा भी साफ कर चुके हैं कि जांच एजेन्सी को सरकार के दबाव में काम करना पड़ता है।यूपीए सरकार और कांग्रेस के तमाम दबावों के बावजूद पार्टी एफडीआई और प्रमोशन में कोटा का विरोध करेगी।

    दरअसल हाल ही में आय से अधिक संपति मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को मुलायम सिंह यादव और उनके बेटे और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के खिलाफ जांच जारी रखने का आदेश दिया था। उसके बाद से ही समाजवादी पार्टी लगातार कांग्रेस पर सीबीआई के दुरुपयोग का आरोप लगा रही है जिसे अब सार्वजनिक किया गया है।

    पार्टी के बयान ने बीजेपी को सरकार को घेरने का एक और मौका दे दिया है। एफडीआई पर संसद में हुई वोटिंग के दौरान पार्टी ने सरकार पर सीबीआई के जरिए बहुमत जुटाने का आरोप लगाया था। अब पार्टी ने एक बार फिर सरकार को घेरा है। उधर सरकार और कांग्रेस पार्टी ने इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है। सूचना और प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी आरोप को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि यूपीए सरकार जांच एजेंसियों से समान दूरी बनाए रखने में विश्वास करती है। वो इन एजेंसियों की स्वायत्तता का सम्मान करती है। बदले और परेशान करने की राजनीति हमारे डीएनए में नहीं है और अगर कोई इससे अलग सोचता है तो वो बेबुनियाद है।

    Tags: Blackmail, CBI, Congress, Fdi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर