Home /News /politics /

'आप' के दफ्तर पर हमला, तोड़फोड़ <a href ='http://khabar.ibnlive.in.com/photogallery/5591/'><font color=red>फोटो</font></a>

'आप' के दफ्तर पर हमला, तोड़फोड़ <a href ='http://khabar.ibnlive.in.com/photogallery/5591/'><font color=red>फोटो</font></a>

आम आदमी पार्टी के गाजियाबाद में कौशांबी स्थित दफ्तर पर हमला किया गया है। इस हमले को हिंदू रक्षा दल और श्रीराम सेना ने अंजाम दिया है।

    गाजियाबाद। आम आदमी पार्टी के गाजियाबाद में कौशांबी स्थित दफ्तर पर हमला किया गया है। इस हमले को हिंदू रक्षा दल और श्रीराम सेना ने अंजाम दिया है। बताया जा रहा है कि आप नेता प्रशांत भूषण के कश्मीर पर दिए बयान के विरोध में हिंदू रक्षा दल और श्रीराम सेना के कार्यकर्ताओं दफ्तर हमला किया। करीब 50 कार्यकर्ताओं ने दफ्तर पर घुसकर हमला किया और जमकर तोड़फोड़ की। बाद में पुलिस ने यहां पहुंचकर स्थिति को संभाला।

    भगवा झंडा लिए तकरीबन 40-50 यहां पहुंचे थे। इन लोगों ने प्रशांत भूषण के कश्मीर के विवादित बयान पर नारेबाजी की और हंगामा किया। इसके बाद ईंट-पत्थरों से दफ्तर के शीशे तोड़ दिए। इसके बाद आप के कार्यकर्ताओं के जमा होने के साथ ही ये भीड़ हट गई। इनकी तस्वीरों सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई हैं।

    विश्वास का बीजेपी पर निशाना
    आप नेता कुमार विश्वास ने भारतीय जनता पार्टी की ओर इशारा करते हुए कहा कि इस हमले को किसने अंजाम दिया है इससे सब वाकिफ हैं। ये सब बीजेपी के लोगों ने करवाया है। ये उन्ही के चेहरे हैं। विश्वास ने कहा कि प्रशांत भूषण के कश्मीर पर बयान से वो खुद असहमत हैं, लेकिन इस तरह की कार्रवाई से साबित हो गया है कि बीजेपी क्या चाहती है। उन्होंने कहा कि बीजेपी गुंडागर्दी पर उतर आई है। देश देख रही है और इन्हें जवाब देगा।

    वहीं, आप नेता दिलीप पांडे ने कहा कि हिंदू रक्षा दल के कार्यकर्ता यहां पहुचे थे। समय रहते हमने अपने कार्यकर्ताओं को अंदर कर दिया था, नहीं तो कुछ भी हादसा हो सकता था। सारी सीमाओं को लांघकर ऐसा किया गया है। हम हमले की निंदा करते हैं।

    बयान वापस लें प्रशांत- गुप्ता
    उधर, हिंदू रक्षा सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता ने कहा कि हमने प्रशांत भूषण के कश्मीर बयान के विरोध में ये सब किया है। कश्मीर भारत का हिस्सा है और रहेगा। जो भी इसके खिलाफ जाएगा उसका हश्र प्रशांत भूषण की तरह होगा। हमारी मांग है कि प्रशांत जी अपने बयान को वापस लें।


    कश्मीर पर जनमत संग्रह के प्रशांत के बयान को लेकर दो साल पहले उन पर हमला हो चुका है। इस बार आप के दफ्तर पर हमला बोला गया है। कुछ दिन पहले ही प्रशांत ने एक निजी चैनल को इंटरव्यू के दौरान कहा था कि कश्मीर में उन स्थानों पर सेना लगाने से पहले स्थानीय लोगों से सेना की तैनाती के बारे में पूछा जाना चाहिए, जहां शांति कायम हो चुकी है।

    'आप' से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें




    Tags: AAP, BJP, Kumar vishwas

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर