पढ़ें: केजरीवाल की 'FIR' पर किसने क्या कहा

पढ़ें: केजरीवाल की 'FIR' पर किसने क्या कहा
केजी बेसिन मामले में अपने खिलाफ एफआईआर दर्ज होने पर पेट्रोलियम मंत्री वीरप्पा मोइली ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है।

केजी बेसिन मामले में अपने खिलाफ एफआईआर दर्ज होने पर पेट्रोलियम मंत्री वीरप्पा मोइली ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है।

  • Share this:
नई दिल्ली। केजी बेसिन मामले में अपने खिलाफ एफआईआर दर्ज होने पर पेट्रोलियम मंत्री वीरप्पा मोइली ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है। मोइली ने कहा कि केजरीवाल को ये पता होना चाहिए कि सरकार कैसे काम करती है। चाहे वो मुकेश अंबानी हों या कोई और, सरकार की ओर से किसी को फेवर नहीं किया गया।

मोइली ने हालांकि ये भी कहा कि अगर गैस के दाम किसी भी तरह कम होते हैं तो मुझे सबसे ज्यादा खुशी होगी। कांग्रेस नेता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने कहा कि केजरीवाल इस बात को लेकर आश्वस्त रह सकते हैं कि चाहे कुछ हो जाए कांग्रेस उनकी सरकार से समर्थन वापस नहीं लेगी।

उधर बीजेपी की ओर से वरिष्ठ नेता वी के मल्होत्रा ने कहा कि केजरीवाल सरकार करप्शन के खिलाफ कोई भी कदम उठाती है तो हमें इसकी खुशी है लेकिन इन लोगों की आदत है कि ये आरोप लगाते हैं और भाग जाते हैं। आप नेता योगेंद्र यादव ने ट्विटर पर बीजेपी और नरेंद्र मोदी के बारे में लिखा है कि क्या वे रिलांयस के घोटाले पर अपनी चुप्पी तोड़ेंगे?



केजरीवाल से शिकायत करने वाले ईएएस शर्मा ने कहा कि मैंने पीएम को 11 पत्र लिखे लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। मैंने इस मुद्दे पर केंद्रीय सतर्कता आयुक्त को भी चार पत्र लिखे लेकिन उनसे भी कोई जवाब नहीं मिला इसलिए मैंने केजरीवाल को पत्र लिया और मैं मानता हूं कि मैंने मुख्यमंत्री से शिकायत की क्योंकि ये दिल्ली का मामला है।
जेडीयू नेता अली अनवर ने कहा कि अगर उनके पास सबूत हैं तो केस दर्ज होना चाहिए। कार्रवाई भी होनी चाहिए। जेडीयू के ही केसी त्यागी ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री ने प्रारंभिक जांच में ऐसा पाया है तो चीफ मिनिस्टर को कार्रवाई करने का अधिकार है। लेकिन इससे कई विवादों का जन्म होगा। ये नए मिजाज की पार्टी है। इसके आरोप भी नए मिजाज के होंगे। ये जंतर मंतर पर बनी पार्टी है नाकि एयर कंडीशन में।

बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि ये अच्छी बात है। कांग्रेस औऱ केजरी का नाटकीय मंचन चल रहा है। उसमें सारी सीमाएं पार कर रही हैं। जो भी उनको पसंद नहीं आता है उसके खिलाफ मामला उठाते हैं। वो हिट एंड रन पर चल रहे हैं। उनके कई वायदे थे, वो सारे वायदे भूल गए हैं।


उद्योगपति विजय माल्या ने कहा कि अगर रिलायंस या फिर किसी कंपनी ने कोई गलत काम किया है तो उसपर कानून के हिसाब से काम करना चाहिए। पिछले कुछ दिन से आरोप लग रहे हैं। लोग इसे चुनाव के मद्देनजर देख रहे हैं। इसे ज्यादा बड़ा करके नहीं देखना चाहिए।


केजरीवाल की पूर्व सहयोगी किरण बेदी ने कहा कि सरकार केवल निगेटिविटी पर नहीं चलती। धमकी, कार्रवाई ये सब निगेटिविटी हैं। लोग चाहते हैं कि विकास कितना हो रहा है। लोग केवल भूतकाल में नहीं रहना चाहते। वर्तमान औऱ भविष्य को भी देखना चाहिए। गवर्नेंस अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारकर नहीं चलती। दिल्ली की सरकार भूतकाल में रहती है। आगे की नहीं सोच रही। सरकार के काम में खुशी और खुशहाली मिसिंग है।

जानी मानी वकील कामिनी जायसवाल ने भी कहा कि मैंने दिल्ली सरकार को शिकायत दी थी क्योंकि इस मुद्दे पर हम केंद्र सरकार से किसी भी कार्रवाई की उम्मीद नहीं करते क्योंकि ये मामला लंबे समय से कोर्ट में लंबित है। हमने जांच की मांग की है जो कि कोर्ट में लंबित नहीं है। अगर मामला विचाराधीन है तो क्यों फिर गैस कीमत दोगुनी की गईं।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading