• Home
  • »
  • News
  • »
  • politics
  • »
  • इस बार अमेठी में कांग्रेस की प्रतिष्ठा दांव पर

इस बार अमेठी में कांग्रेस की प्रतिष्ठा दांव पर

देश में आठवें चरण का मतदान सात मई को होने जा रहा है। इसके लिए सभी पार्टियां अंतिम दौर की तैयारी में जुटी हैं। इस चरण में यूपी की 15 सीटों पर मतदान होगा।

देश में आठवें चरण का मतदान सात मई को होने जा रहा है। इसके लिए सभी पार्टियां अंतिम दौर की तैयारी में जुटी हैं। इस चरण में यूपी की 15 सीटों पर मतदान होगा।

देश में आठवें चरण का मतदान सात मई को होने जा रहा है। इसके लिए सभी पार्टियां अंतिम दौर की तैयारी में जुटी हैं। इस चरण में यूपी की 15 सीटों पर मतदान होगा।

  • Share this:
    लखनऊ। देश में आठवें चरण का मतदान सात मई को होने जा रहा है। इसके लिए सभी पार्टियां अंतिम दौर की तैयारी में जुटी हैं। इस चरण में यूपी की 15 सीटों पर मतदान होगा। इसमें कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी सहित उनके चचेरे भाई वरुण गांधी की लोकप्रियता की भी परीक्षा होनी है। अमेठी, सुल्तानपुर, फूलपुर और इलाहाबाद लोकसभा क्षेत्रों में इन दिनों राजनीतिक गतिविधियां चरम पर हैं। राहुल की बहन प्रियंका गांधी वाड्रा अमेठी में लगातार प्रचार कर रही हैं। देखना यह है कि उनकी प्रतिष्ठा इस बार बचती है या नहीं।

    अमेठी में नुक्कड़ सभाओं से लेकर ड्राइंग रूम की चर्चाओं तक में कांग्रेस और राहुलगांधी के सपनों के भारत की वकालत कर रहीं प्रियंका गांधी वाड्रा को देख कर नहीं लगता कि वह खुद चुनाव नहीं लड़ रही हैं। प्रियंका ने अपने तीखे तेवरों से कांग्रेस कार्यकर्ताओं में उत्साह का संचार किया है। प्रियंका की चुनावी आक्रामकता को देखते हुए कभी-कभी यहां के लोगों को भ्रम हो जाता है कि मुकाबला प्रियंका और बीजेपी की स्मृति ईरानी के बीच हो रहा है।

    चार बार पूर्व प्रधान मंत्री राजीव गांधी, एक बार सोनिया गांधी और दो बार से लगातार राहुल गांधी को यहां की जनता अपना प्रतिनिधि चुनती आ रही है। जाहिर है गांधी परिवार के प्रति जनता का विशेष प्रेम है।
    राजनीतिक विश्लेषक डॉ.दिनेश आर्य ने बताया कि अमेठी में राजीव गांधी के समय में लगी अधिकांश फैक्ट्रियां बंद हैं, सड़कों का हाल आप देख ही रहे हैं, बिजली है नहीं, शिक्षा और स्वास्थ्य के संसाधनों की तो बात ही क्या करें। इस बार लोगों का मन बदला-बदला सा है।

    उनकी ही तरह सब्जी का ठेला लगाने वाले राम भरोसी लाल का मन भी डांवा डोल है। उन्होंने कहा कि बार बार गांधी परिवार को जिताने के बाद भी हमें मिला तो कुछ नहीं। इस बार सोचेंगे कि वोट किसे देना है। यहां कांग्रेस और बीजेपी में सीधी टक्कर दिख रही है, लेकिन आप पार्टी के तेजतर्रार प्रत्याशी कुमार विश्वास को भी कम नहीं आंका जाना चाहिए। विश्वास ने क्षेत्र के 100 से अधिक गांवों का दौराकर लोगों तक अपनी पार्टी की नीति पहुंचाई है और अमेठी को वंशवाद के चंगुल से मुक्त कराने का आह्वानकिया है।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज