• Home
  • »
  • News
  • »
  • politics
  • »
  • 'आप' के योगेंद्र ने भरा रिहाई बॉन्ड, ली जमानत

'आप' के योगेंद्र ने भरा रिहाई बॉन्ड, ली जमानत

दस हजार रुपये की जमानत नहीं देने पर अड़े 'आप' के संयोजक अरविंद केजरीवाल तो तिहाड़ जेल पहुंच गए, लेकिन योगेंद्र यादव ने गुरुवार को पांच हजार रूपए भरकर जमानत ले ली।

दस हजार रुपये की जमानत नहीं देने पर अड़े 'आप' के संयोजक अरविंद केजरीवाल तो तिहाड़ जेल पहुंच गए, लेकिन योगेंद्र यादव ने गुरुवार को पांच हजार रूपए भरकर जमानत ले ली।

दस हजार रुपये की जमानत नहीं देने पर अड़े 'आप' के संयोजक अरविंद केजरीवाल तो तिहाड़ जेल पहुंच गए, लेकिन योगेंद्र यादव ने गुरुवार को पांच हजार रूपए भरकर जमानत ले ली।

  • Share this:
    नई दिल्ली। दस हजार रुपये की जमानत नहीं देने पर अड़े आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल तो तिहाड़ जेल पहुंच गए, लेकिन पार्टी के ही दूसरे नेता योगेंद्र यादव ने गुरुवार को पांच हजार रूपए भरकर जमानत ले ली। पुलिस ने योगेंद्र यादव को धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में कल रात गिरफ्तार किया था। उधर, अरविंद केजरीवाल की पत्नी ने गिरफ्तारी को ड्रामा करार देने पर कड़ी आपत्ति जताई है।

    तिहाड़ जेल के बाहर धारा 144 का उल्लंघन करके प्रदर्शन करने के आरोप में बुधवार रात गिरफ्तार हुए आम आदमी पार्टी नेता योगेंद्र यादव गुरुवार को पांच हजार की जमानत भरकर तीस हजारी कोर्ट से रिहा हो गए। पार्टी के संयोजक केजरीवाल की गिरफ्तारी के खिलाफ हुए इस प्रदर्शन को लेकर पुलिस ने योगेंद्र यादव सहित कुल 59 लोगों को गिरफ्तार किया था। इनमें 58 लोग निजी मुचलका भरकर थाने से रिहा हो गए थे। लेकिन योग्रेंद यादव ने ऐसा करने से इंकार कर दिया।

    पुलिस ने गुरुवार को योगेंद्र यादव को तीस हजारी कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने उन्हें पांच हजार का श्योरिटी बांड भरने पर जमानत दे दी। योगेंद्र यादव ने दावा किया कि पुलिस ने उन्हें बेवजह गिरफ्तार किया।

    आम आदमी पार्टी के नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि मेरा और अरविंद केजरीवाल का केस बिल्कुल अलग था। जज साहब ने बार बार पुलिस से पूछा, आपको यहां तक आने की ज़रूरत क्यों पड़ी। जज साहब ने पुलिस को फटकार लगाई।

    बहरहाल, आम आदमी पार्टी अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी को मुद्दा बनाने की तैयारी हो रही है। पार्टी का दावा है कि हजारों मामलों में जमानत राशि ना भरने वालों को रिहा किया गया है। जनांदोलनों के दौरान ऐसा आमतौर पर होता है। शुक्रवार को कोर्ट के फैसले के बाद पार्टी आगे की रणनीति तय करेगी।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज