UP में रेप-मर्डर पर नेताजी के बेतुके बोल

पूरा यूपी महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराध से कराह रहा है, लेकिन मुलायम के भाई एक कदम आगे बढ़कर कहते हैं कि उन्हें महिलाओं पर हो रहे अत्याचार से कोई फर्क नहीं पड़ता।

  • Share this:
नई दिल्ली। पूरा उत्तर प्रदेश महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराध से कराह रहा है। लेकिन सूबे में जिसकी सरकार है उस समाजवादी पार्टी के मुखिया को मानों फर्क नहीं पड़ता। उनका यही कहना है कि वो पूरी तरह संवेदनशील है। तो दूसरी तरफ पार्टी के महासचिव और मुखिया मुलायम के भाई एक कदम और आगे बढ़ कर यहां तक कह जाते हैं कि उन्हें महिलाओं पर हो रहे अत्याचार से कोई फर्क नहीं पड़ता।

समाजवादी पार्टी के नेताओं के बिगड़े बोल एक बार फिर जनता के जले पर नमक छिड़क रहे हैं। पार्टी का आरोप है कि मीडिया उनके साथ पक्षपात कर रहा है। मुख्यमंत्री के पिता मुलायम सिंह यादव ने मीडिया को अपना काम करने की नसीहत दी तो चाचा रामगोपाल यादव उल्टा सवाल पूछने वाले संवाददाताओं से ही उलझ गए।

बदायूं कांड के बाद चौतरफा किरकिरी से चिढ़े समाजवादी पार्टी के नेता एक बार फिर बेतुकी बयानबाजी करने लगे हैं। सीएनएन-आईबीएन की पॉलिटिकल एडिटर पल्लवी घोष ने राम गोपाल से यूपी में बढ़ते अपराध पर बात करने की कोशिश की तो उनका जवाब महिलाओं के प्रति गैरजिम्मेदाराना था।



उन्होंने जब पूछा कि उत्तर प्रदेश में माहौल किस कदर खराब हो गया है तो रामगोपाल ने पलट कर कहा कि आप ही जाकर वहां का माहौल ठीक कर दो। यही नहीं रामगोपाल मीडिया पर पक्षपात का आरोप भी लगा रहे हैं। रामगोपाल ने कहा कि यूपी में हो रहे रेप के मामलों से हमें कोई फर्क नहीं पड़ता है। मीडिया ही हमारे साथ पक्षपात करता है। दूसरे राज्यों में भी रेप की घटनाएं होती हैं। लेकिन मीडिया सिर्फ यूपी की ही खबर दिखाता है।
मीडिया से कुछ इसी अंदाज में सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव भी पेश आए। मुलायम ने नसीहत दी कि मीडिया अपना काम करे, हम अपना काम कर रहे हैं। समाजवादी पार्टी के इस रुख ने विपक्ष को भी हमले का मौका दे दिया है। अपना दल की अनुप्रिया पटेल ने कहा कि जिस तरह के बयान आ रहे हैं वो शर्मनाक हैं। सरकार को चेतने की जरूरत है। जिससे प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध बढ़ रहा है उसमें कमी आ सके। केंदर सुस्त नहीं है। पीएम के संज्ञान में बाते हैं औऱ उनके नेतृत्व में सुरक्षित भारत मिलेगा।

हालांकि समाजवादी पार्टी के नेताओं के ऐसे बोल नए नहीं हैं। पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ही थे जिन्होंने बलात्कारियों के पक्ष में बयान दिया था कि लड़कों से गलती हो जाती है और मुख्यमंत्री अखिलेश ने कानून व्यवस्था के बारे में सवाल पूछने पर कहा था कि आप तो सुरक्षित हैं न।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि सूबे में कानून और व्यवस्था की हालत बेहद खराब है। उन्होंने कहा कि एक परिवार पूरे राज्य को बरबाद कर रहा है। उधर मुख्तार अब्बास नकवी ने भी अखिलेश सरकार पर जमकर निशाना साधा है। नकवी ने कहा कि जब से अखिलेश यादव की सरकार आई है, उत्तर प्रदेश की हालत बद से बदतर होती जा रही है। चौतरफा परेशानियां दिखाई पड़ रही है, बिजली का संकट, लॉ एंड ऑर्डर समस्या है। उत्तर प्रदेश के हालात को बेहतर बनाने की ज़रूरत है।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज