• Home
  • »
  • News
  • »
  • politics
  • »
  • AIADMK: शशिकला को 'ऑटो रिक्शा' तो पन्नीरसेल्वम को मिला 'बिजली का खंभा'

AIADMK: शशिकला को 'ऑटो रिक्शा' तो पन्नीरसेल्वम को मिला 'बिजली का खंभा'

Photo-PTI

Photo-PTI

अन्नाद्रमुक के दोनों खेमों ने पार्टी के चुनाव चिन्ह ‘दो पत्तियों’ के इस्तेमाल पर चुनाव आयोग की रोक पर ताज्जुब जताया और कहा कि वे इसे वापस पाने के लिए हरसंभव कोशिश करेंगे.

  • Share this:
    चुनाव आयोग ने अपने फैसला सुनाते हुए शशिकला और ओ पन्नीरसेल्वम को नए चुनाव चिन्ह दे दिए हैं. शशिकला की पार्टी का चुनाव चिन्ह अब 'ऑटो रिक्शा' होगा तो वहीं पन्नीरसेल्वम की पार्टी का चुनाव चिन्ह 'बिजली का खंभा' होगा.चुनाव चिन्ह के साथ-साथ दोनों की पार्टियों के नाम भी तय हो गए हैं.

    पन्नीरसेल्वम खेमे ने अपनी पार्टी का नाम एआईएडीएमके पुराट्ची थलैवी अम्मा रखा है तो शशिकला कैंप ने अपनी पार्टी का नाम एआईएडीएमके अम्मा रखा है. वीके शशिकला खेमे ने चुनाव आयोग को अपने नए निशान के लिए तीन विकल्प दिए थे, जिनमें ऑटो रिक्शा, बैट और कैप शामिल था.

    अन्नाद्रमुक के दोनों खेमों ने पार्टी के चुनाव चिन्ह ‘दो पत्तियों’ के इस्तेमाल पर चुनाव आयोग की रोक पर ताज्जुब जताया था और कहा था वो इसे वापस पाने के लिए हरसंभव कोशिश करेंगे. तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम ने एक बयान में कहा था कि चुनाव आयोग के सामने मजबूत सबूत पेश करने के बावजूद उनकी पार्टी को चुनाव चिन्ह नहीं मिलना आश्चर्यजनक और निराशाजनक था. उन्होंने कहा था कि वो किसी भी कीमत पर चुनाव चिन्ह वापस लेकर रहेंगे.

    जेल की सजा काट रहीं अन्नाद्रमुक महासचिव वी के शशिकला के भतीजे दीनाकरण का भी कहना था कि पार्टी कार्यकर्ता पहले भी इस तरह की स्थिति का सामना कर चुके हैं जब चुनाव आयोग ने अन्नाद्रमुक संस्थापक एमजी रामचंद्रन की मौत के बाद 1987 में पार्टी के चुनाव चिन्ह के उपयोग पर रोक लगा दी थी.







    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज