Home /News /politics /

'साइकिल' के लिए अखिलेश गुट ने चुनाव आयोग को दिया 1.5 लाख पन्नों का सबूत

'साइकिल' के लिए अखिलेश गुट ने चुनाव आयोग को दिया 1.5 लाख पन्नों का सबूत

File Photo

File Photo

अगले महीने शुरू हो रहे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए साइकिल निशान पर अपना दावा पुख्ता करने की कोशिश के तहत अखिलेश यादव गुट ने शनिवार को पार्टी के जन प्रतिनिधियों और पदाधिकारियों के हस्ताक्षर वाले हलफनामे चुनाव आयोग को सौंपे.

अधिक पढ़ें ...
  • Bhasha
  • Last Updated :
    अगले महीने शुरू हो रहे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए साइकिल निशान पर अपना दावा पुख्ता करने की कोशिश के तहत अखिलेश यादव गुट ने शनिवार को पार्टी के जन प्रतिनिधियों और पदाधिकारियों के हस्ताक्षर वाले हलफनामे चुनाव आयोग को सौंपे.

    यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के समर्थक रामगोपाल यादव दस्तावेजों की सात प्रतियां सौंपने के लिए नई दिल्ली स्थित चुनाव आयोग मुख्यालय निर्वाचन सदन पहुंचे. आयोग ने इस गुट से ये दस्तावेज मांगे थे.



    उन्होंने दावा किया 1.5 लाख पन्नों के इन कागजातों में 200 से अधिक विधायकों, 68 विधान परिषद सदस्यों में से 56 विधान परिषद सदस्यों, 24 सांसदों में से 15 सांसदों तथा 5000 प्रतिनिधियों में से अखिलेश समर्थक करीब 4600 प्रतिनिधियों के हस्ताक्षर हैं.





    उन्होंने दस्तावेज सौंपने के बाद कहा कि 90 फसदी जनप्रतिनिधि एवं प्रतिनिधि अखिलेश यादव के साथ हैं. यह बिल्कुल साफ है कि हम असली सपा हैं. हमें साइकिल निशान दिया जाना चाहिए और असली सपा समझा जाना चाहिए.

    रामगोपाल ने दावा किया कि एक सेट मुलायम सिंह को उनके दिल्ली निवास पर भेजा गया, लेकिन उन्होंने पावती देने से इनकार कर दिया. अब उसे उनके लखनऊ के पते पर भेजा जाएगा.



    मुलायम सिंह धड़ा सोमवार को अपने हलफनामों का सेट आयोग को सौंप सकता है. चुनाव आयोग ने दस्तावेज सौंपने की समय सीमा नौ जनवरी तय कर रखी है.

    तीन जनवरी को सपा में विभाजन औपचारिक रूप से सामने आ गया था, जब दोनों पक्ष सपा और उसके निशान पर दावा करते हुए चुनाव आयोग के पास पहुंचे थे.

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: Election commission, Ramgopal yadav, Samajwadi party

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर