लाइव टीवी

पंजाब में सीएम बादल के खिलाफ लांबी से चुनाव लड़ना चाहते हैं अमरिंदर

भाषा
Updated: January 14, 2017, 8:48 PM IST
पंजाब में सीएम बादल के खिलाफ लांबी से चुनाव लड़ना चाहते हैं अमरिंदर
तस्वीर: GETTY IMAGES

पंजाब कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की सीट लांबी से चुनाव लड़ने के लिए पार्टी आलाकमान की इजाजत मांगी है, ताकि राज्य में अकाली नेतृत्व की करारी शिकस्त सुनिश्चित हो सके।

  • Share this:
अमृतसर। पंजाब कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की सीट लांबी से चुनाव लड़ने के लिए पार्टी आलाकमान की इजाजत मांगी है, ताकि राज्य में अकाली नेतृत्व की करारी शिकस्त सुनिश्चित हो सके। आप के पूर्व नेता दलजीत सिंह का कांग्रेस में स्वागत करते हुए अमरिंदर ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में यह बात कही।

उन्होंने कहा कि वह मुख्यमंत्री के गढ़ में उनके खिलाफ चुनाव लड़ना चाहते हैं क्योंकि वह मादक पदार्थों, माफिया और गुंडा राज के जरिए राज्य को तबाह करने के लिए जिम्मेदार सारे शीर्ष अकाली नेताओं को शिकस्त देना चाहते हैं। प्रदेश कांग्रेस प्रमुख ने बताया कि उन्होंने कांग्रेस आलाकमान से अनुरोध किया है कि उन्हें लांबी से विधानसभा चुनाव लड़ने की इजाजत दी जाए, ताकि वह पंजाब को बादल परिवार के खराब और विनाशकारी शासन से मुक्त करा सकें।

उन्होंने कहा कि यदि पार्टी ने इजाजत दी तो वह लांबी और पटियाला, दोनों सीटों से लड़ना चाहेंगे। बाद में एक ट्वीट में उन्होंने कहा कि पंजाब चुनाव 2017 लांबी से लड़ने का फैसला किया है। इसे जल्द ही आधिकारिक रूप दूंगा। लांबी से आप दिल्ली के पूर्व विधायक जरनैल सिंह को बादल के खिलाफ पहले ही उतार चुकी है।

अमरिंदर ने आरोप लगाया कि राज्य की स्थिति ठीक नहीं है। उन्होंने पंजाब में ऐसी शर्मनाक स्थिति लाने के लिए बादल और उनके परिवार तथा सहयोगियों को जिम्मेदार ठहराया। पूर्व मुख्यमंत्री ने नाभा जेल कांड का जिक्र करते हुए यह बताना चाहा कि चुनाव के दौरान अकालियों की मदद के लिए राज्य में गुंडों को भागने दिया गया।



अमरिंदर ने कहा कि यदि कांग्रेस ने राज्य में सरकार का गठन किया तो यह अकालियों के सारे घोटालों की जांच शुरू करेगी और किसी आपराधिक कार्य में संलिप्त हर व्यक्ति को दंडित करेगी। उन्होंने लोगों से अकालियों के खिलाफ अपनी निराशा और रोष मतपत्र के जरिए प्रकट करने का अनुरोध किया।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि उन्होंने जो योजनाएं लोगों के कल्याण के लिए शुरू की थी उन्हें सख्ती से लागू किया जाएगा और वह राज्य से किए कृषि रिण माफी, हर परिवार में एक नौकरी और युवाओं को मोबाइल फोन सहित हर एक वादे को पूरा करेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार कृषि रिण पर ब्याज दर के बारे में फिर से विचार करेगी और उन्हें इस तरह निर्धारित कराएगी कि किसानों को अपनी जेब से एक पाई भी नहीं देना पड़े। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि राष्ट्र भारतीय मुद्रा से महात्मा गांधी की तस्वीर हटाने की कभी इजाजत नहीं देगा।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पॉलिटिक्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2017, 8:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर