होम /न्यूज /politics /

तिरंगे की कीमत गरीब का निवाला छीन कर वसूलना ‘शर्मनाक’: वरुण गांधी

तिरंगे की कीमत गरीब का निवाला छीन कर वसूलना ‘शर्मनाक’: वरुण गांधी

आजादी के 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर हर घर तिरंगा कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. फाइल फोटो

आजादी के 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर हर घर तिरंगा कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. फाइल फोटो

Varun Gandhi News: बेरोजगारी, अर्थव्यवस्था और कृषि सहित विभिन्न मुद्दों पर वरुण गांधी पिछले कुछ समय से केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना करते रहे हैं.

हाइलाइट्स

केंद्र सरकार की नीतियों की खुले तौर पर आलोचना कर रहे हैं वरुण गांधी
केंद्र सरकार 'हर घर तिरंगा' अभियान कार्यक्रम चला रही है.

नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद वरुण गांधी ने बुधवार को राशनकार्ड धारकों को तिरंगा खरीदने के लिए मजबूर किए जाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि तिरंगे की कीमत गरीब का निवाला छीन कर वसूलना शर्मनाक है. पीलीभीत से सांसद गांधी ने एक वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘आजादी की 75वीं वर्षगांठ का उत्सव गरीबों पर ही बोझ बन जाए तो यह दुर्भाग्यपूर्ण होगा. राशनकार्ड धारकों को या तो तिरंगा खरीदने पर मजबूर किया जा रहा है या उसके बदले में उनके हिस्से का राशन काटा जा रहा है.’

उन्होंने कहा, ‘हर भारतीय के हृदय में बसने वाले तिरंगे की कीमत गरीब का निवाला छीन कर वसूलना शर्मनाक है.’ इस वीडियो में कुछ राशनकार्ड धारकों को यह शिकायत करते हुए देखा जा रहा है कि उन्हें 20 रुपये में तिरंगा खरीदने को मजबूर किया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के तहत देशवासियों से अपने घरों में 13 अगस्त से 15 अगस्त के बीच तिरंगा लगाने का आग्रह किया है.

प्रधानमंत्री मोदी के इस आह्वान को सफल बनाने के लिए भाजपा भी अभियान चला रही है. उल्लेखनीय है कि बेरोजगारी, अर्थव्यवस्था और कृषि सहित विभिन्न मुद्दों पर वरुण गांधी पिछले कुछ समय से केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना करते रहे हैं.

Tags: 75th Independence Day, BJP, Varun Gandhi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर