Home /News /politics /

रक्षा मंत्री ने की आरक्षण बरकरार रखने की वकालत, कहा- दबे-कुचलों के उत्थान के लिए है जरूरी

रक्षा मंत्री ने की आरक्षण बरकरार रखने की वकालत, कहा- दबे-कुचलों के उत्थान के लिए है जरूरी

Getty Image

Getty Image

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य की ओर से आरक्षण नीति की समीक्षा की बात कहे जाने के बाद रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने आरक्षण बरकरार रखने की वकालत की है.

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य की ओर से आरक्षण नीति की समीक्षा की बात कहे जाने के बाद रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने आरक्षण बरकरार रखने की वकालत की है. उन्होंने कहा कि हालांकि आरक्षण व्यवस्था का कुछ दुरपयोग है, लेकिन दबे-कुचलों के उत्थान के लिए यह आवश्यक है.

    गोवा में भाजपा के युवा सम्मेलन को संबोधित करते हुए पर्रिकर ने एक सवाल के जवाब में कहा, 'चूकि गोवा में स्थिति भिन्न है, लेकिन समूचे देश में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों की सामाजिक स्थिति ठीक नहीं है. यह सुधर रही है.'

    उन्होंने कहा 'मैं स्वीकार करता हूं कि आरक्षण का कुछ दुरपयोग हो रहा है, लेकिन मेरा मानना है कि हमें उन लोगों के उत्थान के लिए एक तंत्र पर काम करने की आवश्यकता है जो सामाज में दबे-कुचले हैं.' रक्षा मंत्री ने आरक्षण की जरूरत को स्वीकार करते हुए कहा 'आरक्षण के पीछे का उदे्दश्य उन लोगों का उत्थान है और मुझे लगता है कि आरक्षण नीति की आवश्यकता है.'

    आरएसएस के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य ने शुक्रवार को आरक्षण नीति की समीक्षा संबंधी बात कही थी और यह भी कहा था कि बीआर अंबेडकर भी आरक्षण के लगातार जारी रहने के पक्ष में नहीं थे. उनकी टिप्पणी के बाद संघ ने स्पष्टीकरण में कहा था कि आरक्षण जारी रहना चाहिए तथा कोई अनावश्यक विवाद नहीं होना चाहिए.

    इस बीच, पर्रिकर ने कहा कि परिस्थितियों ने उन्हें राजनीति में आने को विवश कर दिया, लेकिन वह इस क्षेत्र में प्रवेश के पहले दिन अपनाए गए सिद्धांत का आज भी पालन करते हैं.

    Tags: Manohar parrikar, RSS

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर