Home /News /politics /

अगले सत्र में जाट आरक्षण का बिल विधानसभा में लाएगी सरकार: खट्टर

अगले सत्र में जाट आरक्षण का बिल विधानसभा में लाएगी सरकार: खट्टर

Photo- Pradesh18.com

Photo- Pradesh18.com

बैठक के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री खट्टर ने जाटों समुदाय से आंदोलन खत्‍म करने की अपील की है.

  • Pradesh18
  • Last Updated :
    जाट आरक्षण के मुद्दे को सुलझाने के लिए शुक्रवार को हरियाणा सरकार की ओर से हरियाणा निवास पर सर्वदलीय बैठक बुलाई गई. सर्वदलीय बैठक में जाट आरक्षण के मुद्दे पर चर्चा के बाद मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने एक कमेटी बनाने की घोषणा की है. यह कमेटी 31 मार्च तक सरकार को अपनी रिपोर्ट देगी.

    बैठक के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री खट्टर ने जाटों समुदाय से आंदोलन खत्‍म करने की अपील की है. खट्टर ने कहा कि कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद अगर सभी पार्टियों के साथ बात बनी तो सरकार अगले सत्र में जाट आरक्षण का बिल भी विधानसभा में लाएगी.

    जानकारी के अनुसार, आरक्षण के मुद्दे पर जाटों और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के बीच हुई वार्ता का कोई ठोस नतीजा न निकलने के कारण जाट आंदोलन और उग्र होता जा रहा है. प्रदर्शनकारियों ने शुक्रवार को छठे दिन भी अपना आंदोलन जारी रखा. रोहतक शहर के आसपास और सोनीपत, हिसार, भिवानी और जींद जिलों के अन्य स्थानों पर सड़क और रेल मार्गों को बाधित किया हुआ है.

    हरियाणा में बढ़ते जाट आंदोलन को देखते हुए प्रशासन ने प्रभावित जिलों में मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद कर दी हैं.

    गौरतलब है कि जाट समुदाय के लोग सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में आरक्षण की मांग कर रहे हैं. इसके चलते रोहतक, झज्जर सहित कई अन्य जिलों के अधिकांश हिस्सों में आंदोलन की वजह से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है.

    हरियाणा पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ऐसा इसलिए किया गया है, ताकि अफवाहें न फैलें, क्योंकि इससे स्थिति अनियंत्रित हो सकती है.

    Tags: Jat reservation, Jat reservation issue

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर