Home /News /politics /

केजरीवाल ने पूछा- क्या सहारा-बिडला दस्तावेजों के मामले में जांच के लिए तैयार हैं पीएम?

केजरीवाल ने पूछा- क्या सहारा-बिडला दस्तावेजों के मामले में जांच के लिए तैयार हैं पीएम?

दिल्ली सरकार के सचिवालय में सीबीआई की छापेमारी के मुद्दे पर शुक्रवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और दिल्ली के अरविंद केजरीवाल सरकार के बीच एक बार फिर टकराव पैदा हो गया।

दिल्ली सरकार के सचिवालय में सीबीआई की छापेमारी के मुद्दे पर शुक्रवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और दिल्ली के अरविंद केजरीवाल सरकार के बीच एक बार फिर टकराव पैदा हो गया।

दिल्ली सरकार के सचिवालय में सीबीआई की छापेमारी के मुद्दे पर शुक्रवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और दिल्ली के अरविंद केजरीवाल सरकार के बीच एक बार फिर टकराव पैदा हो गया।

    नई दिल्ली। दिल्ली सरकार के सचिवालय में सीबीआई की छापेमारी के मुद्दे पर शुक्रवार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और दिल्ली के अरविंद केजरीवाल सरकार के बीच एक बार फिर टकराव पैदा हो गया। आक्रामक रुख अख्तियार करते हुए मुख्यमंत्री केजरीवाल ने एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी से पूछा कि क्या वह विवादित सहारा-बिडला दस्तावेजों के मामले में जांच के लिए तैयार हैं।

    कथित अवैध नियुक्तियों के मुद्दे पर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के पूर्व विशेष कार्य अधिकारी (ओएसडी) के दफ्तर पर सीबीआई की छापेमारी के कुछ ही घंटों के भीतर केजरीवाल ने सहारा- बिडला दस्तावेजों का मामला उठाकर उल्टा प्रधानमंत्री को ही घेरने की कोशिश की। केजरीवाल सहारा- बिडला दस्तावेजों के मुद्दे पर मोदी को निशाना बनाते रहे हैं। केंद्रीय गृह सचिव रह चुके अनिल बैजल के दिल्ली के उप-राज्यपाल के तौर पर शपथ-ग्रहण से एक दिन पहले दिल्ली सरकार और केंद्र के बीच यह टकराव देखने को मिला है।

    पिछले साल दिसंबर में अपने पूर्व प्रधान सचिव राजेंद्र कुमार के दफ्तर में हुई छापेमारी का हवाला देते हुए केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा नियुक्त समिति की ओर से जांच पर मोदी के सहमत नहीं होने से साबित हो जाएगा कि प्रधानमंत्री में साहस नहीं है। केजरीवाल ने मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि दिल्ली सचिवालय में 2015 में हुई सीबीआई की छापेमारी में चार मफलर निकले थे और यहां तक कि छापेमारी की लागत भी नहीं निकल सकी थी। उन्होंने कहा कि उस वक्त मोदी जी को सिर्फ मुझमें ही भ्रष्ट नजर आया था।

    दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने (मोदी) सत्येंद्र जैन के यहां छापेमारी कराई है। लेकिन हम आपकी सीबीआई से डरने वाले नहीं हैं। इससे पहले, सोशल मीडिया पर केजरीवाल की बहस दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और बीजेपी विधायक विजेंद्र गुप्ता से हुई। गुप्ता ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया कि वह गलत इल्जाम लगा रहे हैं और ऐसा करने से आपके अपराध कम नहीं हो जाएंगे। गुप्ता ने ट्वीट किया कि आपने मेरी पत्नी पर भी फर्जी आरोप लगाए थे, एक महिला के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था। हम किसी जांच से नहीं डरते। केजरीवाल ने आरोप लगाया कि सीबीआई ने जैन के खिलाफ सात प्राथमिकियां और उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के खिलाफ दो प्राथमिकियां दर्ज की हैं। हालांकि, उन्होंने इस पर और कुछ नहीं लिखा।

    Tags: Arvind kejriwal, BJP, CBI

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर