VIDEO: राष्ट्रपति के लिए आडवाणी के नाम पर नरम पड़े लालू यादव

राजद अध्यक्ष लालू यादव ने सीएनएन न्यूज 18 से विशेष बातचीत में राष्ट्रपति चुनाव, शहाबुद्दीन, सुशील मोदी और बेटी मीसा पर खुलकर बात की.

News18Hindi
Updated: June 15, 2017, 3:06 PM IST
News18Hindi
Updated: June 15, 2017, 3:06 PM IST
राजद अध्यक्ष लालू यादव ने सीएनएन न्यूज 18 से राष्ट्रपति चुनाव, शहाबुद्दीन, सुशील मोदी और बेटी मीसा भारती पर खुलकर बात की. उन्होंने कहा, लालकृष्ण आडवाणी का शत्रुघ्न सिन्हा और दूसरे कई लोग बहुत आदर करते हैं. लेकिन, मैंने बाबरी मामले में उनका नार (नाड़ा) काट दिया. उन्होंने यह भी कहा कि बहू पढ़ी-लिखी हो जो सास से झगड़ा न करे.

राष्ट्रपति के लिए आडवाणी का नाम आएगा तो देखा जाएगा, लेकिन विचारधारा से कोई समझौता नहीं होगा. पहले नाम आने दीजिए. एडवांस में क्या बोलें?

साल 2019 में कौन प्रधानमंत्री होगा जवाब में लालू ने कहा कि ये तो चुनाव बाद ही तय होगा. उस समय दूल्हा तय करने में देरी नहीं होगी. अभी विपक्ष के लोग एकजुट हो रहे हैं. इसके लिए 27 जून को पटना में एक रैली भी है.

शहाबुद्दीन के मामले में लालू ने कहा एसपी ठीक से काम नहीं कर रहा है. ये क्या अपराध है? इसके कंटेंट में कोई अपराध नहीं है. उसने जेल से कैसे बात की, यह अथॉरिटी जाने. अमित शाह जब जेल में था तो नरेंद्र मोदी उससे बात करते थे. उन्होंने कहा, मैं कोई पेट्रोजन नहीं देता. शहाबुद्दीन जेल में है. हमारी सरकार ने उसपर केस खत्म नहीं किया, बल्कि लगाया ही है.

सुशील मोदी पर लालू ने कहा, वह झूठ के अवतार है. मेरा सचिव था. पुराने कागज निकाल कर आरोप लगाता है. टीवी उसकी बात दिखाता है, मेरी नहीं.

बेटी मीसा पर कहा, वह इनकम टैक्स के सवाल का जवाब देने गई थी. इस बात की एंट्री है. मीडिया ने गलत छापा कि मीसा और उसके पति को पेनाल्टी लगा. यह सब झूठ है.

नीतीश के सवाल पर कहा कि उनका पूरा सपोर्ट है मुझे. वह मेरे निजी मामले में क्या बोलेंगे? बीजेपी के साथ नीतीश के जाने का सवाल ही नहीं है. दिल्ली बहुत दूर है.

चारा घोटाले पर लालू ने कहा, मेरे ऊपर केस चल रहा है. उसका मैं सामना करूंगा.

घर पर डॉक्टर की तैनाती पर लालू ने कहा, मेरे घर डॉक्टर आया. क्या जेटली के के घर एम्स का डॉक्टर नहीं जाता है? ड्यूटी खत्म करके शाम 7 बजे के बाद डॉक्टर इंजेक्शन लगाने आया था.

बहू के सवाल पर लालू ने कहा, ये सवाल हमसे क्यों करते हो. मुझे शादी करनी है? लड़कों का शादी करनी है और वे ही पसंद करेंगे. हम बाद में देखेंगे. जमाना उल्टा हो गया है. पहले लड़के को पसंद हो तब बात करेंगे. उन्होंने कहा कि राबड़ी सही बोली हैं कि पढ़ी-लिखी संस्कारी बहू चाहिए. दिन भर सास से लड़ेगी तो कैसे चलेगा?
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर