Home /News /politics /

'सत्तू और सूप में फर्क नहीं जानते राहुल गांधी'

'सत्तू और सूप में फर्क नहीं जानते राहुल गांधी'

 बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी किसानों का मसीहा बनने की कोशिश कर रहे हैं, मगर उन्हें सत्तू और सूप का फर्क तक पता नहीं है।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी किसानों का मसीहा बनने की कोशिश कर रहे हैं, मगर उन्हें सत्तू और सूप का फर्क तक पता नहीं है।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी किसानों का मसीहा बनने की कोशिश कर रहे हैं, मगर उन्हें सत्तू और सूप का फर्क तक पता नहीं है।

    भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय अल्पसंख्यक मामले और संसदीय कार्य राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी किसानों का मसीहा बनने की कोशिश कर रहे हैं, मगर उन्हें सत्तू और सूप का फर्क तक पता नहीं है।

    नकवी ने भोपाल में मीडिया कार्यशाला में बिहार के किसान कांग्रेस कार्यकर्ता की आपबीती बताते हुए कहा कि किसानों के मसीहा बनने वाले राहुल गांधी का ढोंग किसानों की समझ में आ गया है। जब बिहार के किसान कार्यकर्ता ने राहुल से मिलकर उन्हें सत्तू भेंट किया तो राहुल ने उससे पूछ डाला कि सत्तू का सूप बनता है क्या?

    उन्होंने आगे कहा कि आजादी के 65 वर्षो तक कांग्रेस ने किसानों को हाशिये पर डालकर रखा, आज सैनिकों के खैरख्वाह बन रहे हैं, जबकि उनके कार्यकाल में पूवरेत्तर में चीनी आक्रमण के समय फौज के पास न तो ड्रेस थी, न ही ठंड से बचने का साजो-सामान और न ही असलाह-बारूद था। आज एक रैंक एक पेंशन की बात करते हैं, पैंसठ सालों तक क्यों नहीं की? सत्ता से बेदखल कर दिए गए तो किसान-जवान याद आने लगे।

     

    नकवी ने कहा कि आज किसान-जवान जो समस्याएं भुगत रहे हैं, वह कांग्रेस की अदूरदर्शिता की देन है। सत्ता में रहते कांग्रेस ने उपेक्षा की और सत्ता के मद में मस्त रही। अब किसान, जवान की चिंता की नौटंकी करके कांग्रेसी उनके जख्मों पर नमक छिड़क रहे हैं।

     

    पिछले एक साल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चल रही केंद्र सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए नकवी ने मीडिया के प्रतिनिधियों से कहा कि भारत का दुनिया में सम्मान बढ़ा है। विश्व में विश्वास का सिलसिला शुरू हुआ है, जिससे भारत के बारे में सकारात्मक बदलाव दुनिया के देशों में आया है। हम गर्व के साथ इस तथ्य को जन-जन तक पहुंचाएं, जिससे आम भारतीय का मस्तक गर्व से ऊंचा हो सके।

     

    उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षो में जहां भारत की रेटिंग घट गई थी, निवेश बंद हो चुका था, प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिका, चीन, जापान जैसे औद्योगिक क्षितिज पर पहुंचे देशों में जाकर मेक इन इंडिया की गर्जना की और उन देशों को भारत में आने का निमंत्रण दिया। इससे विश्व में संदेश गया कि भारत में विकास की एक अभिनव क्रांति आई है। नकवी ने आगे कहा कि कांग्रेस अपनी हीनग्रंथि के कारण इन उपलब्धियों को पचा नहीं पा रही है।

     

    नकवी ने कहा कि सामंती मानसिकता और लूट की लाबी का जो दिल्ली में गठजोड़ बना है, वह तरह-तरह की अफवाहें फैलाकर गुमराह करना चाहती है, लेकिन हमें जन-जन को जमीनी वास्तविकता से अवगत कराना है। संपर्क, संवाद और समन्वय की जिम्मेदारी पार्टी के मीडिया कर्मियों को निर्वाह करना है। मीडिया का समाज पर तत्काल और स्थायी असर पड़ता है।

     

    उन्होंने कहा कि जिन मुद्दों को लेकर नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव में जनता के बीच गए थे, उन पर हमनें पहल की है। भ्रष्टाचार, घोटाले और लूट पर अंकुश लगाया है। पूर्ववर्ती यूपीए सरकार ने कॉमनवेल्थ गेम्स के साथ ही लूट पर्व आरंभ कर दिया था, लेकिन मोदी सरकार के आते ही सत्ता के गलियारों से दलालों की दुकानें बंद हो चुकी हैं। राजनेताओं और नौकरशाहों के बीच जो लोग दलाली करते थे, उनका लाइजनिंग बिजनेस तालाबंदी का शिकार हो चुका है।

     

    उन्होंने ये भी कहा कि हमनें घरेलू और वैदेशिक मोर्चा पर नाकामियों के निशान मिटा दिए हैं, दुनिया की प्रभावी मैग्जीन 'टाइम' और 'इकानोमिक्स' ने मोदी सरकार के बारे में जो टिप्पणियां लिखी हैं, उनमें बताया गया है कि भारत विश्व की सबसे सशक्त अर्थव्यवस्था होगी और 2016 में दुनिया की अर्थव्यवस्थाओं में सबसे अग्रणी बनेगी। देश की साख व पहचान दुनिया में बदल चुकी है।

     

    प्रादेशिक मीडिया कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि मीडिया लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है, हमें इसके प्रति सदैव संवेदनशील रहना है। मीडिया के मिजाज को समझते हुए मीडियाकर्मी अपने आचार-व्यवहार को संवेदनशील बनाएं और सजगता के साथ कार्य करें।

     

    उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने विदेशों से कालाधन लाने के लिए कठोर कानून लाकर चुनावी घोषणा को पूर्ण किया है। हमें केंद्र सरकार और राज्य सरकार की उपलब्धियों को तथा पार्टी के वैचारिक दर्शन को जनकल्याण पर्व और महासंपर्क अभियान के दौरान जन-जन तक पहुंचाना है।

     

    उन्होंने बताया कि 26 मई से 30 मई तक जनकल्याण पर्व प्रदेश में आयोजित किया जाएगा, जिसमें केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, सुषमा स्वराज, सुरेश प्रभु, नरेंद्रसिंह तोमर, थावरचंद गहलोत, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित प्रदेश के पदाधिकारी सभाओं, रैलियों में भाग लेंगे और प्रदर्शनियां आयोजित की जाएंगी। इन अवसरों को उपलब्धियों में बदलना मीडिया कर्मियों की जिम्मेदारी होगी।

    Tags: BJP, Congress, Mukhtar abbas naqvi, Rahul gandhi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर