vidhan sabha election 2017

प्रणब मुखर्जी ने वादा किया, लापता छात्र नजीब के मामले में कार्रवाई करेंगे : केजरीवाल

आईएएनएस
Updated: November 7, 2016, 8:42 AM IST
प्रणब मुखर्जी ने वादा किया, लापता छात्र नजीब के मामले में कार्रवाई करेंगे : केजरीवाल
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के लापता छात्र के मामले में कार्रवाई करने का वादा किया है।
आईएएनएस
Updated: November 7, 2016, 8:42 AM IST
नई दिल्ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के लापता छात्र के मामले में कार्रवाई करने का वादा किया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनसे मुलाकात कर तीन हफ्ते से ज्यादा लंबे समय से लापता छात्र का पता लगाने के लिए मोदी सरकार को प्रयास बढ़ाने का निर्देश देने का आग्रह किया। केजरीवाल ने ट्विटर पर कहा कि जब उन्होंने राष्ट्रपति से मुलाकात की, तो राष्ट्रपति ने उन्हें आश्वासन दिया। केजरीवाल ने कहा कि राष्ट्रपति ने वादा किया है कि वह जेएनयू के छात्र नजीब अहमद के लापता होने की घटना पर गृह मंत्रालय से रपट मांगेंगे। राष्ट्रपति ने पूरी सहायता करने का भरोसा दिया है।

बीजेपी से संबद्ध अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कथित सदस्यों के साथ हुए झगड़े के बाद 15 अक्टूबर से वह लापता है। एबीवीपी ने नजीब के लापता होने में किसी तरह की संलिप्तता से पूरी तरह इंकार कर दिया है। राष्ट्रपति को लिखे पत्र में केजरीवाल ने इस बात पर दुख जताया कि जिन छात्रों ने नजीब पर कथित रूप से हमला किया था, पुलिस ने उन छात्रों से चार नवंबर तक पूछताछ भी नहीं की थी।

पत्र में उन्होंने लिखा है कि मैं आपसे आग्रह करता हूं कि जेएनयू के मामले में इस प्रमुख विश्वविद्यालय के कुलाध्यक्ष होने के नाते अविलंब हस्तक्षेप करें। मैं आपसे नजीब का पता लगाने के लिए केंद्र सरकार को जांच प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए तत्काल निर्देश देने का आग्रह करता हूं। हम लोग ऐसे मोड़ पर हैं, जहां हर पल का महत्व है। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि अहमद पर हमला करने वाले एबीवीपी के छात्रों के खिलाफ विश्वविद्यालय के कुलपति ने कार्रवाई नहीं की है।

इसबीच, जेएनयू के छात्रों को इंडिया गेट स्मारक पर विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी गई। पुलिस ने प्रथम विश्वयुद्ध के इस स्मारक की तरफ जाने वाले सभी मार्गो को बंद कर दिया था। केजरीवाल ने ट्विटर पर पुलिस कार्रवाई का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि ये विद्यार्थी इंडिया गेट पर नजीब के लिए प्रदर्शन करने गए थे। पुलिस ने इंडिया गेट की तरफ जाने वाले सभी रास्ते बंद कर दिए। भारी असुविधा। दिल्ली को पुलिस राज्य में मत बदलिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि रविवार को तैनात पुलिसकर्मियों में से आधी संख्या अगर नजीब का पता लगाने के लिए लगाई जाती, तो वह अब तक मिल चुका होता।
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर